बड़ी खबर: इंदौर में गिरा होटल, पल में मलबा हुई कई जिंदगियां

चार मंजिला जर्जर इमारत में चल रही लॉज में धंसकर 10 लोगों की मौत हो गई। लॉज के मैनेजर हरीश सोनी ने घटना के करीब दस मिनट पहले ही बेटे लकी को फोन किया था। लकी के मुताबिक पिता ने फोन पर कहा कि लॉज की दीवार गिर गई है। इस पर मैंने उन्हें लॉज से बाहर निकलकर खुद को सुरक्षित करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने यह कहते हुए मना कर दिया कि कुछ लोग दब गए हैं मैं उनको निकालने की कोशिश कर रहा हूं। तुम लोग मत घबराना।

लकी बहन किरण और अपनी मां लक्ष्मी के साथ जब तक मौके पर पहुंचे, सबकुछ खत्म हो गया था। होटल का मलबा देख वे जार-जार रोने लगे। किरण और लकी पिता हरीश सोनी को तलाश रहे थे। इस बीच लकी ने मलबे के बीच पिता को तलाशने के लिए जाने की कोशिश की। पुलिस ने उसे रोक दिया। रात 12 बजे 70 वर्षीय हरीश सोनी का शव मलबे से निकाला गया।

CBSE पेपर लीक मामला: 30 मिनट पहले ही दिल्ली के दो टीचरों ने तोड़ दी थी सील

रात तक काम करवाता था होटल मालिक : बेटी किरण के मुताबिक हरीश पिछले चार साल से होटल में काम कर रहे थे। होटल का मालिक शंकर परवानी उनसे सुबह से रात तक काम करवाता था। कई बार बोला कि दिन में ड्यूटी करवाओ, लेकिन उन्हें छुट्टी नहीं देते थे।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button