जान ले कान्हा की बांसुरी घर में रखने के ये कमाल के फायदे

भगवान विष्णु का अवतार माने जाने वाले श्री कृष्ण जी को बांसुरी बहुत प्रिय थी। वह अपने साथ सदा इसे रखते थे। इसी वजह से शास्त्रों में बांसुरी को विशेष स्थान प्राप्त है। यहां तक कि वास्तु शास्त्र के अनुसार बांसुरी को घर में रखना बहुत शुभ माना जाता है। वास्तु के मुताबिक बांसुरी को घर में रखने से हर तरह की नकारत्मक शक्ति घर से दूर रहती है। इसके अलावा बांसुरी और भी कई तरीकों से घर के लिए शुभ मानी जाती है। आइए जानते हैं कैसे…
1. भगवान कृष्ण सभी को बांसुरी की मधुर धुन से मोहित कर लिया करते थे। राधा के साथ उनका लगाव भी इसी बांसुरी के जरिए हुआ था। अगर आपके घर में अशांति का माहौल है या फिर आपकी अपने पार्टनर से बहस या लड़ाई होती है तो आपको भी अपने घर में श्री कृष्ण की बांसुरी रखनी चाहिए। बांस से बनी बांसुरी आपके लिए बहुत शुभ रहेगी।

2. अगर आपको अपने आसपास के किसी व्यक्ति से नकारात्मक ऊर्जा का एहसास होता है तो अपने पास एक छोटी सी बांसुरी रखना शुरु कर दें। हो सके तो एक चांदी की बांसुरी बनवाकर पास रख लें नहीं तो बांस या फिर लकड़ी की। बांसुरी अपने पास रखने से भगवान श्री कृष्ण की अपार कृपा आप पर बनी रहेगी जिससे नेगेटिव लोगों का प्रभाव आप पर नहीं पड़ेगा।
3. धन कमाने के लिए मेहनत और दिमाग दोनों की जरूरत होती है। हर व्यक्ति धन प्राप्ति के लिए भगवान से जरुर कामना करता है। कई बार आपके पूरे एर्फट के बावजूद आपको मेहनत का फल नहीं मिल पाता। ऐसे में व्यक्ति कई बार निराश होकर बैठ जाता है। मगर निराश होने की जरुरत नहीं है, वास्तु के अनुसार यदि आपके बनते काम बिगड़ते जा रहे हैं तो घर के मंदिर में बांसुरी जरुर रखें। सुबह काम पर निकलने से पहले और वापिस आने के बाद बांसुरी के दर्शन जरुर करें। ऐसा करने से आपके रुके-पड़े काम जल्द बनने लगेंगे।

4. अगर घर में कोई लंबे समय से बीमार चल रहा है तो उस व्यक्ति के पास बांसुरी रख दें।बांसुरी पास रखने से बीमार व्यक्ति का मनोबल स्ट्रांग होता है। जिससे वह जल्द ठीक होने लगता है।
5. अगर आपको बहुत दिनों से किस अच्छी खबर को सुनने की आशा है तो आपको अपने घर में बांसुरी जरूरी रखनी चाहिए। इससे आपको सुख की प्राप्ती होगी। घर के मंदिर में बांसुरी रख कर रोज उसकी पूजा करने से आपकी हर मनोकामना पूरी होगी।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button