अब YouTube को टक्कर देने की तैयारी कर रहा हैं TikTok

YouTube बेशक सबसे पॉपुलर वीडियो प्लैटफ़ॉर्म है. 2010 से पहले अगर आपको याद हो तो इस प्लैटफ़ॉर्म पर सिर्फ़ 10 मिनट तक के ही वीडियो अपलोड किए जा सकते थे.

बाद में धीरे धीरे करके YouTube से 10 मिनट तक का रेस्ट्रिक्शन हटा और अब लंबे वीडियोज भी अपलोड किए जा सकते हैं. अब बात करते हैं शॉर्ट वीडियो शेयरिंग ऐप Tik Tok की जो भारत में बैन है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

भारत में Tik Tok भले ही बैन है, लेकिन कँपानी को यहाँ पूरी उम्मीद है कि सरकार इस पर लगा बैन हटा देगी. अमेरिका और चीन सहित दूसरे देशों में ये ऐप तेज़ी से फल फूल रहा है.

अब अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनल्ड ट्रंप की विदाई हो रही है और जनवरी में जो बाइडेन अपना पद संभाव लेंगे. ऐसे में Tik Tok के लिए अब अमेरिका में बने रहने का भी रास्ता एक तरह से साफ़ है.

इन सब के बीच Tik Tok अब तैयारी कर रहा है कि इस प्लैटफ़ॉर्म को शॉर्ट वीडियो से थोड़ा अग़ल किया जाए. शायद यही वजह है कि कंपनी अब वीडियो लिमिट बढ़ा रही है.

सोशल मीडिया पर बारीकी से नजर रखने वाले एक्सपर्ट मैट नवारा नए एक ट्वीट में स्क्रीनशॉट शेयर किया है. स्क्रीनशॉट में लिखा है कि उन्हें Tik Tok पर तीन मिनट तक के वीडियो अपलोड करने का अर्ली ऐक्सेस दिया जा रहा है.

Tik Tok ऐप और डेस्कटॉप पर अर्ली ऐक्सेस के तहत वो अब तीन मिनट तक के वीडियोज अपलोड कर सकेंगे. यानी न सिर्फ़ टिक टॉक ऐप पर, बल्कि tiktok.com से भी तीन मिनट के वीडियो अपलोड किए जा सकते हैं.

फ़िलहाल ये लिमिटेड है और सभी के लिए नहीं है. लेकिन इससे एक चीज निकल कर आ रही है कि कंपनी अब सिर्फ़ शॉर्ट वीडियो तक ही ख़ुद को लिमिट नहीं रखना चाहती और अपना दायरा बढ़ा रही है.

चूँकि टिक टॉक काफ़ी पॉपुलर हो चुका है और इसे भुनाते हुए ही कंपनी अपने प्लैटफ़ॉर्म को एक वीडियो अपलोडिंग प्लैटफ़ॉर्म की तरह स्थापित करने की तैयारी में है.

ऐसे में ये कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी कि आगे चल कर TikTok गूगल के वीडियो प्लैटफ़ॉर्म YouTube को टक्कर देगी. चूँकि इन दिनों YouTube की एक तरह से मोनॉपली है, इसलिए शायद ऐसा होता हुआ न दिखे, लेकिन ऐसा लगता है कि टिक टॉक का टार्गेट गूगल ही है.

YouTube की बात करें तो कंपनी ने हाल ही में TikTok जैसा फ़ीचर शॉर्ट  लॉन्च किया है. ये फ़ीचर TikTok को टक्कर देने और अपने यूज़र्स को बनाए रखने के लिहाज़ से कंपनी ने लाया है. क्योंकि कहीं न कहीं YouTube को भी इस बात का अंदाज़ा है कि TikTok उस का राइवल बन सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button