यह 5 साल लड़की हर रात को हो जाती थी गायब, एक दिन…

यह 5 वर्षीय लड़की हर रात को खाना खाने के बाद अपने घर से गायब हो जाती थी। उसके पिता ने चुपके से उसका पीछा करने का फैसला किया।

जब उसके पिता ने यह अविश्वसनीय सच जाना कि उसकी बेटी हर रात को किसके पास जा रही थी, तो वह फूट-फूट कर रोने लगा और उसने तुरंत पुलिस को फोन किया।

बाद में वह स्थानीय समाचार चैनलों को बताता है कि वह अभी भी यह समझ नहीं पा रहा है कि इतने लंबे समय तक उसकी बेटी बिना किसी की नज़र में आए, यह सब कैसे करती रही।

“अगर मुझे और मेरी पत्नी को यह पहले पता चल जाता, तो हम तुरंत हस्तक्षेप करते।”

यह लगातर चौथा दिन था जब टॉम ने पाया कि उसकी बेटी का कमरा खाली था। यह हमेशा एक ही समय के दौरान होता था, शाम के 6 से 7 के बीच।

एमा का घर से लघभग एक घंटे के लिए गायब होना कोई असामन्य बात नहीं थी। वह घर के पीछे वाले मैदान में खेलने चली जाती थी, लेकिन आज तक ऐसा नहीं हुआ था कि वह लगातार इतनी शामों को घर से गायब हुई हो। इसलिए बेन को चिंता होने लगी…

जब उसने अपनी बेटी से इसके बारे में पूछा, तो एमा के पास हमेशा से कोई जवाब तैयार होता था। यह उसका अपना मामला था और उसके पिता को इसमें नहीं पड़ना चाहिए!

लेकिन टॉम के लिए यह जानना ज़रूरी था… आखिरकार रात को उसकी बेटी कहाँ जाती थी!?

यह बात तो स्पष्ट थी कि टॉम को उसकी बेटी से जवाब नहीं मिलने वाला था, इसलिए टॉम ने खुद इस बात की जांच करने का फैसला किया।

एक बार फिर जब पांचवें दिन, एमा खाना खाने के बाद जब घर से बहार गई, तब टॉम को पता था कि उसके पास एमा के कमरे की तलाशी लेने के लिए पूरा एक घंटा है। वह सच जाने के लिए दृढ था!

वह जल्दी से ऊपर एमा के कमरे में गया और तेज़ी से एमा के सारे ड्रावर की तलाशी लेने लगा। उसके कमरे में हर तरफ एमा के कपड़े और खिलौने बिखरे हुए थे… लेकिन टॉम को वहाँ कुछ नहीं मिला।

जब तक उसकी नज़र उसके तकिए पर चिपके हुए सफ़ेद कागज़ पर नहीं पड़ी…

इस रहस्यमयी नोट पर क्या लिखा हो सकता है? टॉम ने कागज़ की तरफ घूरते हुए, तकिये को एक तरफ कर दिया। उसने कागज़ की तरफ अपना हाथ बढ़ाया, उस नोट को उठाया और फिर उसने उसे पढ़ना शुरू कर दिया…

“शाम के ठीक 6:30 बजे अपने मैदान के पीछे वाले घर में आ जाना। और सुनिश्चित करना कि तुम अकेली ही हो!”

यह सब क्या चल रहा था? लगातार इतने दिनों के लिए उसकी बेटी को ‘अकेले’ कहाँ जाना पड़ रहा था और इस रहस्य्यी नोट को भेजने वाला कौन था?

अब टॉम के पास करने के लिए सिर्फ एक ही चीज़ बाकी थी… अपनी बेटी का पीछा!

छठे दिन, टॉम पूरी तरह से तैयार था। वह बेसब्री से अपने कमरे में इंतज़ार कर रहा था, और उसने अपने कमरे का दरवाज़ा खुला ही रखा था, ताकि वह एमा पर नज़र बनाई रखे।

वह मन ही मन यह सोच रहा था, “अगर वह घर से बहार निकली, तो मैं चुपके से उसका पीछा करूँगा”

घड़ी पर 6 बजते हैं लेकिन टॉम अपने ख्यालों में ही खोया हुआ था, और उसे कहीं भी उसकी बेटी दिखाई नहीं दे रही थी…

समय रहते हुए ही वह घर के पिछले दरवाज़े की तरफ भागता है…. क्योंकि वहाँ उसकी नज़र एमा पर पड़ती है जो उनके घर के पीछे के जंगलों में लगभग गायब हो जाती है।

एमा टॉम के वहाँ पहुँचने से पहले ही जंगल में कहीं गायब हो गई थी, लेकिन टॉम उस नोट में वर्णित घर को बहुत अच्छे से पहचानता था, इसलिए उसके लिए अपनी बेटी को ढूँढना ज़्यादा मुश्किल नहीं था।

5-हेक्टेयर एस्टेट में जहाँ टॉम अपने परिवार के साथ रहता था, यह लगभग 100 वर्षों से टॉम के परिवार का ही रहा है और वह रहस्यमय घर उसके दादा दादी का घर हुआ करता था।

लगभग 50 सालों से उस घर में कोई नहीं रह रहा था, लेकिन वहाँ पहुँचने पर वहाँ का दृश्य देख टॉम की तो सांस ही थम जाती है…

वहाँ बालकनी में एमा का कोई इंतज़ार कर रहा था!

टॉम घर के पास एक पेड़ के पीछे छिप जाता है और अपनी बेटी के आने का इंतज़ार करता है। घबराया हुआ पिता सोचता है, “एमा यहाँ पर क्या कर रही है?”

उसे ज़्यादा समय के लिए इंतज़ार नहीं करना पड़ता, क्योंकि कुछ मिनटों के बाद ही, एमा मैदान की दूसरी तरफ से वहाँ पहुँचती है।

वह ज़ोर से दरवाज़ा खटखटाती है और वह रहस्य्मय व्यक्ति बालकनी में से गायब हो जाता है।

दरवाज़ा खुलता है और एमा अंदर चली जाती है…

यह रहस्य्मय व्यक्ति कौन था और यह उनके मकान में क्या कर रहा था और इससे भी महत्वपूर्ण…वह एमा के साथ क्या कर रहा था!?

टॉम तेज़ी से कारवाई करता है। उसके पास उस पुरानी इमारत की एक चाबी होती है और वह चुपके से पीछे वाले दरवाज़े से अंदर घुस जाता है।

धीरे से वह कमरे में घुस जाता है और जल्द ही वह अपनी बेटी को उस रहस्मय व्यक्ति से बातें करते हुए सुन पाता है। निश्चित रूप से वह एक महिला की आवाज़ थी…

टॉम दरवाज़े के पीछे छिप कर बाहर ही खड़ा रहता है और अंदर के हालातों को देखने की कोशिश करता है।

निश्चित रूप से वो दोनों अंदर काफी व्यस्त थे। टॉम को अपनी बेटी और उस महिला के इलावा भी, कई कदमों की आवाज़ें सुनाई दे रहीं थी …

और फिर अचानक से एमा दरवाज़ा खोल देती है!

अपनी बेटी के बाहर आने के एक दम पहले ही टॉम वहाँ से गायब हो जाता है। एमा वहाँ से चली जाती है और शायद वह घर वापस जा रही थी…

उस समय वह अपनी बेटी का पीछा भी कर सकता था, लेकिन पहले उसको यह पता करना था कि उस औरत में ऐसा क्या ख़ास था कि हर रात को उसकी बेटी उसे मिलने आती थी।

वह ज़ोर से दरवाज़ा खोलता है और कमरे के अंदर देख कर वह आश्चर्यचकित रह जाता है…

कमरे में 20 से भी ज़्यादा कुत्ते मौजूद थे, और एक कोने में, वह औरत बैठी होती है!

“यहाँ यह सब चल क्या रहा है!?”

टॉम को देख कर वह औरत घबरा जाती है और वह तेज़ी से वहाँ से निकलने की कोशिश करती है, लेकिन टॉम उसे रोक देता है।

“तुम्हें मुझे यह बताना होगा कि तुम यहाँ क्या कर रही हो और इस तरह छिप कर तुम हर रोज़ मेरी बेटी से क्यों मिलती हो!”

भर्मित औरत फूट फूट कर रोने लगती है और वह कुर्सी पर बैठ जाती है। वह एक गहरी सांस लेती है और टॉम को अपनी कहानी बताना शुरू करती है।

बाद में टॉम मीडिया को बताता है, “अगर मुझे और मेरी पत्नी को यह पहले पता चल जाता, तो हम तुरंत हस्तक्षेप करते।”

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button