ये अनोखा म्यूजियम जहाँ मौजूद हैं 300 जानवरों के लिंग, ब्लू व्हेल के बारे में जानकर हो जाएंगे हैरान

- in ज़रा-हटके

दुनिया भर में कई अनोखे म्यूजियम मौजूद है. जहाँ पर अनोखी और ऐतिहासिक चीज़ों की भरमार है. आइसलैंड में एक ऐसा ही अनोखा म्यूजियम है. जहाँ दुनिया भर के 300 जानवरों के लिंग रखे गए है. यहाँ 93 छोटे जीव, 55 व्हेल, 36 सील अैर 118 जमीन पर रहने वाले जानवरों के लिंग को संजो कर रखा गया है. इस म्यूजियम की शुरुवात सिगुरोर जार्टरसन ने की थी.दुनिया भर में कई अनोखे म्यूजियम मौजूद है. जहाँ पर अनोखी और ऐतिहासिक चीज़ों की भरमार है. आइसलैंड में एक ऐसा ही अनोखा म्यूजियम है. जहाँ दुनिया भर के 300 जानवरों के लिंग रखे गए है. यहाँ 93 छोटे जीव, 55 व्हेल, 36 सील अैर 118 जमीन पर रहने वाले जानवरों के लिंग को संजो कर रखा गया है. इस म्यूजियम की शुरुवात सिगुरोर जार्टरसन ने की थी.  इस अनोखे म्यूजियम की पॉपुलैरिटी दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. सालाना यहाँ करीब 20000 पर्यटक पहुचते है. जिनमे 60 फीसदी महिलाए शामिल है. यहाँ कुत्ता, बिल्ला, बंदर, भेड़, बकरे, आदि से लेकर गोरिल्ला और पोलर बियर तक के लिंग रखे गए है. इस म्यूजियम में सबसे बड़ा लिंग  ब्लू व्हेल का है.  70 किलोग्राम वजनी इस लिंग की लंबाई 170 सेंटीमीटर है. म्यूजियम में मौजूद सबसे छोटा लिंग हैम्स्टरम का है. जिसकी लंबाई 2 मीटर है. इसे देखने के लिए लेंसदुनिया भर में कई अनोखे म्यूजियम मौजूद है. जहाँ पर अनोखी और ऐतिहासिक चीज़ों की भरमार है. आइसलैंड में एक ऐसा ही अनोखा म्यूजियम है. जहाँ दुनिया भर के 300 जानवरों के लिंग रखे गए है. यहाँ 93 छोटे जीव, 55 व्हेल, 36 सील अैर 118 जमीन पर रहने वाले जानवरों के लिंग को संजो कर रखा गया है. इस म्यूजियम की शुरुवात सिगुरोर जार्टरसन ने की थी.  इस अनोखे म्यूजियम की पॉपुलैरिटी दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. सालाना यहाँ करीब 20000 पर्यटक पहुचते है. जिनमे 60 फीसदी महिलाए शामिल है. यहाँ कुत्ता, बिल्ला, बंदर, भेड़, बकरे, आदि से लेकर गोरिल्ला और पोलर बियर तक के लिंग रखे गए है. इस म्यूजियम में सबसे बड़ा लिंग  ब्लू व्हेल का है.  70 किलोग्राम वजनी इस लिंग की लंबाई 170 सेंटीमीटर है. म्यूजियम में मौजूद सबसे छोटा लिंग हैम्स्टरम का है. जिसकी लंबाई 2 मीटर है. इसे देखने के लिए लेंस की ज़रूरत होती है. की ज़रूरत होती है.

इस अनोखे म्यूजियम की पॉपुलैरिटी दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. सालाना यहाँ करीब 20000 पर्यटक पहुचते है. जिनमे 60 फीसदी महिलाए शामिल है. यहाँ कुत्ता, बिल्ला, बंदर, भेड़, बकरे, आदि से लेकर गोरिल्ला और पोलर बियर तक के लिंग रखे गए है. इस म्यूजियम में सबसे बड़ा लिंग  ब्लू व्हेल का है.

70 किलोग्राम वजनी इस लिंग की लंबाई 170 सेंटीमीटर है. म्यूजियम में मौजूद सबसे छोटा लिंग हैम्स्टरम का है. जिसकी लंबाई 2 मीटर है. इसे देखने के लिए लेंस की ज़रूरत होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चलती ट्रेन में लड़की से हुआ एकतरफा प्यार, और फिर तलाशने के लिए करना पड़ा ये काम

कहते है कि प्यार पहली नजर में ही