Home > जीवनशैली > हेल्थ > कूल्हे के दर्द से तुरंत छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू उपचार

कूल्हे के दर्द से तुरंत छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू उपचार

हिप्‍स या कूल्‍हों पर होने वाला दर्द कई कारणों के वजह से हो सकता है। हिप्स में दर्द होने का एक कारण हड्डियों के बीच मौजूद फ्लूड की कमी भी होता है। उम्र बढ़ने के साथ साथ जोड़ो में दर्द होना आम बात हैं जिसे हम आर्थराइटिसके नाम से जानते हैं। जोड़ो में दर्द होने की वजह से कई बार यह दर्द कूल्हों में भी महसूस होने लगता है।कूल्हे के दर्द से तुरंत छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू उपचार

कूल्हे या हिप्स में दर्द होना सामान्य बात है जो महिलाओं और पुरुषो दोनों को होती है लेकिन आमतौर तो यह समस्या महिलाओ को अधिक होती है।

आइये जानते हैं की आखिर किन कारणों की वजह से महिलाओं में कूल्हे दर्द होते हैं। 

फ्लूड की कमी के वजह से

फ्लूड की कमी हो जाने से हड्डिया आपस में रगड़ खाने लगती है, जिससे ये कमजोर हो जाती है। गिर जाने या बढ़ती उम्र के कारण भी इसकी हडिड्यां टूटफूट सकती है।

किसी हड्डी का टूटना या चटकना

40 वर्ष की उम्र के बाद महिलाओं का मेटाबोलिज्म तेजी से कम होता है जिसकी वजह से उनकी हड्डियों का घनत्व कम होने लगता है और ऐसे में किसी भी आन्तरिक हड्डी का टूटना या चटकना आम बात हो जाती है। इसीलिए अगर आपको कूल्हे में दर्द है तो आप इसे सामान्य ना लें बल्कि किसी अच्छे डॉक्टर के पास जायें।

कूल्‍हें की नसों में दवाब

अक्‍सर महिलाएं सुंदर दिखने के लिए टाइट कपडे पहनती हैं, टाइट कपडे पहनने से कूल्हे की नसों में दवाब पड़ता है जिसकी वजह से इनमें दर्द होना शुरू हो जाता है।

कैल्शियम की कमी

उम्र बढ़ने के साथ शरीर में कैल्शियम की कमी होने लगती है और कैल्शियम की कमी की वजह से कूल्हों में दर्द होना आम बात है। 

पीरियड्स

महिलाओ को पीरियड्स के दौरान दर्द सबसे अधिक पेट और कूल्हों में होता है और इसके अलावा टांगो में भी हल्का दर्द होता है। 

एप्‍पल साइडर विनेगर

एक गिलास पानी में एप्पल साइडर विनेगर मिलाकर पीने से कूल्हे के दर्द में काफी आराम मिलता है। इसके अलावा ब्रोकली खाने से भी न सिर्फ कूल्हे का दर्द सही होता है बल्कि पूरे शरीर के दर्द में भी आराम मिलता है। ब्रोकली में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो जोड़ों की सेहत लंबे समय तक बरकरार रखते हैं। 

पपीता खाने से

पपीते में बड़ी मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। विटामिन सी न केवल इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाता है, बल्कि ये कूल्हे के दर्द के लिए भी काफी फायदेमंद है। इसके अलावा सही साइज के जूते पहनकर, एक्सरसाइज करके और मोटापे को नियंत्रित रखकर भी आप जोड़ों के दर्द से राहत पा सकते हैं। 

विटामिन ई

हिप्स के दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए विटामिन ई युक्त चीजें बहुत फायदेमंद होती हैं। खासतौर पर बादाम में पाया जाने वाला ओमेगा 3 फैटी एसिड सूजन और गठिया के लक्षणों को कम करने में मददगार होता है। बादाम के अलावा मछली और मूंगफली में भी पर्याप्त मात्रा में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है। 

बर्फ से सिंकाई

बर्फ ऐसी चीज है जो न सिर्फ गर्मियों में ठंडक प्रदान करती है बल्कि कूल्हों के दर्द से भी छुटकारा दिलाती है। कूल्हों में दर्द के दौरान यदि बर्फ रगड़ी जाए तो बहुत आराम मिलता है। डॉक्टर्स कहते हैं कि 10 से 15 मिनट तक 4 से 5 बर्फ का प्रयोग किया जा सकता है। इसके अलावा बर्फ को प्लॉस्टिक के बैग में रखकर भी आप कूल्हों की मालिश कर सकते हैं। 

लहसुन खाएं

कूल्हे के दर्द में लहसुन का सेवन अधिक से अधिक करें इससे काफी आराम मिलता है। विशेषज्ञ भी मानते हैं कि प्याज और लहसुन में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कूल्हे के दर्द में तुरंत आराम पहुंचाते हैं। इनके नियमित सेवन से कूल्हे केदर्द की शिकायत होने का खतरा काफी कम हो जाता है। 

एक्‍सरसाइज करें

कुछ एक्‍सरसाइज से भी कूल्‍हें के दर्द में राहत मिलती है। जैसे हलकी फुल्की कसरत, स्ट्रैचिंग व्यायाम इस में मदद करते हैं। दर्दनाक जोड़ को बढ़ाने से सूजन कम हो सकती है और दर्द से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है। अपने कूल्हे की तुलना में अपने टखने या घुटने को ऊपर उठाना आसान है, लेकिन यह अभी भी संभव है। हम्फ्री आपके कूल्हे में लाभ प्राप्त करने के लिए अपने पैरों के साथ झुकाव की भी मदद करता है। स्विमिंग बहुत अच्छी कसरत होती है। यह हड्डियों पर ज्यादा दबाव नहीं डालती। 

Loading...

Check Also

दिल की सेहत के लिए टहलने व साइकिल चलाने से ज्यादा कामयाब यह तरकीब

दिल की सेहत के लिए टहलने व साइकिल चलाने से ज्यादा कामयाब यह तरकीब

यह आम धारणा है कि दिल को दुरुस्त रखने के लिए शारीरिक सक्रियता जरूरी है, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com