Home > अपराध > शादीशुदा प्रेमी की याद में तड़प रही थी प्रेमिका, फिर उससे शादी तोड़ने के लिए दूधमुंही बच्ची के साथ किया ये काम

शादीशुदा प्रेमी की याद में तड़प रही थी प्रेमिका, फिर उससे शादी तोड़ने के लिए दूधमुंही बच्ची के साथ किया ये काम

कहते हैं ‘प्यार में लोग अंधे हो जाते हैं.’ इस कहावत के उदाहरण हमें कई बार देखने को मिले हैं. प्यार में पागल हुई ऐसी ही एक प्रेमिका की करतूत नई दिल्ली में देखने को मिली हैं. यहाँ एक विवाहित महिला ने पूर्व प्रेमी की शादी तोड़ने के लिए उसकी दो माह की बच्ची के साथ ऐसा घटिया कम कर दिया कि आपका भी खून खौल उठेगा. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

शादीशुदा प्रेमी की याद में तड़प रही थी प्रेमिका, फिर उससे शादी तोड़ने के लिए दूधमुंही बच्ची के साथ किया ये कामजानकारी के मुताबीक ये पूरी घटना देश की राजधानी दिल्ली की हैं. यहाँ श्यामलाल बाबू और लक्ष्मी का कुछ सालो पहले प्रेम प्रसंग चला करता था. हालाँकि कुछ निजी कारणों से इन दोनों की शादी नहीं हो पाई. लक्ष्मी अपनी शादी के बाद पति के साथ यूपी के राजीव नगर रहने लगी तो उसका प्रेमी श्यामबाबू शादी कर पत्नी संग सीमापुरी रहने लगा.

कीर्तन के दौरान हुई बच्ची गायब

बीते शुक्रवार श्याम बाबू की गली में भजन कीर्तन का आयोजन हुआ था. इस दौरान उनकी दो माह की बच्ची अचानक से गायब हो गई थी. घबराए परिजनों ने बच्ची को बहुत ढूँढा लेकिन वो कहीं नहीं मिली. इसके बाद श्याम बाबू और उनकी पत्नी ने पुलिस में बच्ची की गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई.

पुलिस को हुआ पूर्व प्रेमिका पर शक
शिकायत के बाद इस पुरे मामले को एसपी राम सिंह की देख रेख में एसएचओ संजीव गौतम और एसआई राकेश मलिक की टीम ने अपने हाथो में ले लिया. पुलिस ने बच्ची के माता पिता के फोन रिकार्ड्स खंगालना शुरू किए. इसी दौरान उन्हें पता चला कि बच्ची के पिता श्याम बाबू के पास एक लड़की का फोन आया था जिसने उनके हाल चाल पूछे थे. श्याम बाबू ने बताया कि वो लड़की उनकी पूर्व प्रेमिका हैं. चुकी पूर्व प्रेमिका ने ये कॉल काफी महीनो बाद किया था इसलिए पुलिस को उस पर शक हो गया.

प्रेमिका ने कबुला जुर्म

शक के आधार पर पुलिस ने आरोपी लक्ष्मी को हिरासत में लिया और पूछताछ करने लगी. शुरुआत में तो लक्ष्मी ने कुछ नहीं बताया लेकिन जब सख्ती से पूछा गया तो वो टूट गई और बच्ची को अगवा करने की बात कबूल ली.

मंदिर में छोड़ा था दो माह की मासूम को

लक्ष्मी ने पुलिस को बताया कि बच्ची को किडनेप करने के बाद वो उसे इंदिरापुरम के एक मंदिर में छोड़ आई थी. जब पुलिस लक्ष्मी को उस मंदिर लेकर पहुंची तो पता चला कि मंदिर के पंडित ने बच्ची को अकेला पाकर उसे पुलिस को पहले ही सौप दिया था. पुलिस ने बच्ची को अस्पताल में भर्ती करवा रखा था. इस तरह दिल्ली पुलिस की टीम ने बच्ची का पता लगाकर उसे परिजनों को सौप दिया.

बच्ची को दूर कर तोड़ना चाहती थी प्रेमी की शादी
जब पुलिस ने बच्ची को अगवा करने की वजह पूछी तो लक्ष्मी ने बताया कि वो अपनी शादी से बिलकुल खुश नहीं थी. उसे अपने पूर्व प्रेमी श्याम बाबू की याद आ रही थी. उसने सोचा कि यदि वो उसकी बच्ची को रास्ते से हटा दे तो श्याम बाबू और उसकी पत्नी के बीच दूरियां बढ़ने लगेगी और एक दिन श्याम बाबू उसका हो जाएगा.

Loading...

Check Also

रक्षा मंत्री सीतारमण ने कहा, दसॉ पर ब्यौरा सार्वजनिक करने को नहीं डाल सकते दबाव

रक्षा मंत्री सीतारमण ने कहा, दसॉ पर ब्यौरा सार्वजनिक करने को नहीं डाल सकते दबाव

मुंबईः रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कहा कि भारत फ्रांस की विमान निर्माता कंपनी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com