झारखंड में ये अद्भुद नाजारा देख लोग नहीं हटा पाए अपनी नजरे..

झारखंड के धनबाद जिले में गुरुवार की सुबह सूर्य के चारों ओर अद्भुत नजारा देखने को मिला। सूर्य एक गोलाकार इंद्रधनुष के बीच नजर आ रहा था। मैथन, पूर्वी टुंडी आदि इलाकों में यह अद्भुत नजारा दिखा। जिसने भी यह नाजारा देखा वो देखता ही रह गया। इसे देखकर लोगों के बीच तरह-तरह की बातें चर्चा का विषय बन गईं।

जलवायु परिवर्तन का असर

इस संबंध में जानकारी देते हुए के एसजीएम कॉलेज निरसा के प्राध्यापक भूगोल के प्रोफेसर टिकैत मांझी ने बताया कि यह सूर्य के किनारे बना यह छल्ला जलवायु परिवर्तन को दर्शा रहा है। कुछ दिनों के अंदर ही बूंदाबांदी, बारिश और आंधी-तूफान के आसार नजर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि वातावरण में व्याप्त नरमी के कारण यह छल्ला बना है।

ओडिशा में अमित शाह ने दलित परिवार के घर में किया भोजन

विशेषज्ञ ने बताया कि सूरज की गर्मी के कारण धरती से जल की बूंदें वाष्प बनकर बादल के रूप में ऊपर एकत्रित हुई हैं। इसमें प्रदूषण की भी मात्रा है। वलय की सूर्य की दूरी से ही यह अंदाजा लगाया जाता है कि इस वर्ष मॉनसून कैसा रहेगा यह इंद्रधनुषी वलय इस बात का भी सूचक है कि इस वर्ष मॉनसून सही रहेगा।

प्राध्यापक ने बताया कि सूर्य व वलय के बीच एक लाल चमकता गोला नजर आ रहा है। वह दरअसल सूर्य के चारों ओर बने वलय में प्रदूषण की मात्रा है, जो सूर्य की रोशनी से प्रकाशित होकर लाल पिंड के रूप में दिखाई दे रहा है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button