Omg: गुस्से में गाली देने के इन फायदो के बारे में जानकर उड़ जाएगे आपके होश!!

- in ज़रा-हटके

गाली देना सभ्य समाज में अच्छा नहीं माना जाता है। गाली देने वाले को हम गन्दा और असभ्य इंसान समझते हैं लेकिन गाली देना कभी कभी खुद के लिए बहुत फायदेमंद भी होता है। आपने अकसर देखा होगा कि गुस्से के समय मानसिक तनाव में रहता है। कई लोग आत्महत्या भी कर लेता है। जबकि गाली देने वाला इंसान स्वस्थ्य और जोश से भरा हुआ दिखाई देता है। आइये जानते हैं गुस्से में गाली देने के फायदे…..  

# जब हम गाली देते हैं तब गुस्से की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होने लगती है, और तनाव कम  हो जाता है।

# ज्यादा गुस्से में शांत रहने वालो को अकसर दिल में दबाव बनता है, जिससे हार्ट अटेक आने की सम्भावना बढ़ जाती है, जबकि गुस्से में गाली देने से अटेक से बचा जा सकता है।

वीडियो: भेड़िये की शक्ल में तीन निर्वस्त्र लड़कियां, वीडियो देखकर आपको नही होगा यकीन!

# अत्याचार की स्थिति में या लड़ाई की स्थिति में हमारे दिमाग पर मानसिक तनाव बढ़ता है, लेकिन जब हम उस स्थिति में जी भर कर गाली दे देते हैं तो गाली देने से मानसिक तनाव अपने आप कम होने लगता है।

# गुस्से में रक्त का दबाव बढ़ता है और उससे सांस फूलने लगती है, जबकि गुस्से के समय गाली देते रहने से रक्त संचार संतुलित बना रहता है।

# गाली देने वाला इंसान – गाली नहीं देने वाले इंसान से ज्यादा जोशीला बना रहता है, क्योकि गाली देने से शरीर के अंदर जो गुस्से का दबाव होता है वह बाहर निकल जाता है।

# आपने अकसर देखा होगा कि गुस्से के समय शांत रहनेवाले इंसान को या तो अटेक आ जाता है, या तो डिप्रेशन का शिकार बनते जाता है. हर बात से चिढने लगता है, जबकि गाली देकर लड़ाई खत्म करने वाला बाद में शांत और खुश नज़र आता है।

# खुद को स्वस्थ रखना है तो क्रोध और तनाव की स्थिति में दिल खोल कर, जी भर कर, चिल्ला चिल्ला कर गाली दीजिये और तब तक गाली दीजिये जब तक आप संतुष्ट ना हो जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चलती ट्रेन में लड़की से हुआ एकतरफा प्यार, और फिर तलाशने के लिए करना पड़ा ये काम

कहते है कि प्यार पहली नजर में ही