ईसाई धर्म में वर्जित हैं ये इन 10 चीजें, भूलकर भी न करें क्रिसमस पर यह काम

मुस्लिमों की कुरान की तरह ईसाई धर्म के लोगों की बाइबल में आस्था होती है. बाइबल और कुरान में बहुत से नैतिक मूल्य एक-दूसरे से मेल खाते हैं. हालांकि, बहुत कम लोग इन सभी नियमों का पालन कर पाते हैं. आइए जानते हैं बाइबल में किन बातों की मनाही की गई है.

छोटे कपड़े और महंगी चीजें- बाइबल के 2:9 अध्याय में सेंट टिमोथी कहते हैं, ‘महिलाओं का पहनावा सही होना चाहिए. इतना ही नहीं, चमकते ईयर रिंग्स, सोने की चेन या महंगी घड़ियां जैसे रीएसेम्बल फैशन आइटम भी वर्जित हैं.’

मछली या सी फूड: लेवीकट 10:11 के अध्याय के मुताबिक, नदी या समुद्र में रहने वाली जीवों के पास पंख नहीं होते हैं. इन जीवों को खाने से बचना चाहिए.

तलाक के बाद शादी- 10:11-12 अध्याय कहता है कि तलाक के बाद दोबारा शादी नहीं करनी चाहिए. यानी अगर आपका तलाक हो चुका है तो बैचलर रहने में ही भलाई है.

पार्टनर से रिश्ता तोड़ना- 1 क्रोथिएंस के 7:10-11 अध्याय के मुताबिक, दोबारा शादी की बात सोचना तो दूर की बात है, पहली बात लोगों को तलाक ही नहीं लेना चाहिए. इसमें ये भी कहा गया है कि एक महिला को अपनी पति से कभी अलग नहीं रहना चाहिए. Photo: Getty Images

फटे हुए कपड़े- अगर आप सोच रहे हैं कि महंगी और सुंदर चीजें न पहनने की वजह से आप बच गए हैं तो एक बार अपनी रिप्ड या रफ जींस पर भी नजर डाल लीजिए, जो फैशन जगत का एक मौजूदा ट्रेंड भी है. लेवीकट के 10:6 अध्याय के मुताबिक, आपका सिर कभी खुला नहीं होना चाहिए और न ही आपके कपड़े फटे होने चाहिए.

चर्च में लड़कियों के बोलने पर पाबंदी- 1 क्रोथिएंस के 14:34 अध्याय में कहा गया है कि महिलाओं को चर्च में बोलने की आजादी नहीं है. जब तक उन्हें बोलने के लिए न कहा जाए तब तक उन्हें चुप रहना चाहिए. उनके इसके लिए बनाए गए गए नियमों का पालन करना चाहिए.

शादी से पहले सेक्स- हेब्रियूज का 13:4 अध्याय कहता है कि पार्टनर के साथ शादी से पहले सेक्स करना भी पाप है. शादी से पहले सेक्स को अनैतिक बताने वाली कई बातों का जिक्र बाइबल में किया गया है.

शेव या दाढ़ी ट्रिम करवाना- लेवीकट का 19:27 का अध्याय कहता है कि पुरुषों की दाढ़ी या तो किसी माउंटेन मैन की तरह लंबी और घनी दाढ़ी रखना चाहिए या फिर एकदम क्लीन कट. लेकिन फैशन ट्रेंड को देखें तो ज्यादातर लोग सिर और दाढ़ी के बालों पर नए-नए एक्सपेरीमेंट कर रहे हैं.

शराब पीना कहां है मना- लेवीकट का 10:09 अध्याय कहता है कि जब आप किसी कार्यक्रम या समारोह में जाते हैं तो आपको शराब या किसी तरह का स्ट्रॉन्ग ड्रिंक नहीं पीना चाहिए.

पीठ पीछे बुराई- लेवीकट का 19:16 का अध्याय कहता है कि आपको कभी किसी की पीठ पीछे बुराई नहीं करनी चाहिए. फिर चाहे आप कितने भी गुस्से, नशे में ही क्यों न हो.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button