नहीं है ट्रंप को कोई बीमारी, हैं पूरी तरह से स्वस्थ

वाशिंगटन,रॉयटर्स। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पहले हेल्थ चेकअप के बाद डॉक्टर का कहना है कि वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं। राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रंप का यह पहला चेकअप था। ट्रंप का चेकअप वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर में हुआ और यह जांच कई घंटो तक चली। इसमें ट्रंप का ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल, ब्लड शुगर, हार्ट रेट और वजन जैसी चीजों का निरिक्षण किया गया। अमेरिका के 45 राष्ट्रपति के हेल्थ चेकअप के बाद डॉ रोनी जैक्सन ने अपने संक्षिप्त बयान में कहा कि आज ट्रंप की शारीरिक जांच की गई थी। वह बिल्कुल स्वस्थ हैं। जांच की बाकी जानकारी 16 जनवरी को मीडिया के जरिए शेयर की जाएगी। नहीं है ट्रंप को कोई बीमारी, हैं पूरी तरह से स्वस्थ

बता दें कि हर अमेरिकी राष्ट्रपति का वार्षिक हेल्थ चेकअप किया जाता है। ट्रंप की मेडिकल जांच व्यापक रुप से की जा रही है। इससे पहले उनके राजनीतिक विरोधियों ने उनके स्वास्थ्य को लेकर कई तरह के सवाल उठाए थे और मीडिया का ध्यान आर्कषित किया था। 71 वर्षीय ट्रंप ने अपने स्वास्थ्य से जुडे हर सवाल को खारिज कर दिया था। ट्रंप ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा था, ‘मुझे लगता है कि मै पूरी तरह से स्वस्थ हुं और मुझे बहुत आश्चर्य होगा अगर ऐसा नहीं होता है।’ उन्होंने अपने स्वास्थ्य पर एक सवाल के जवाब में मजाकिया अंदाज में कहा, ‘यह बेहतर है, अन्यथा शेयर बाजार खुश नहीं होगा।’

नवंबर 2016 के चुनाव के दो महीने पहले ट्रंप ने अपने लंबे समय के डॉक्टर डॉ हेरोल्ड बोर्नस्टेन से पांच पैराग्राफ़ का पत्र जारी किया था जिसमें यह साफ तौर पर लिखा था कि शारीरिक दृष्टि से वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं। इस पत्र में ट्रंप के ब्लड प्रेशर और केलोस्ट्रोल की जांच की रिपोर्ट थी। हालांकि वह कोलेस्ट्रॉल-डाउनिंग स्टेटिन दवा का इस्तेमाल करते हैं। उनके ईकेजी, छाती एक्सरे, एकोकार्डियोग्राम और ब्लड शुगर सामान्य थे।

बता दें कि जब से डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बने हैं, तब से उनके मानसिक स्वास्थ्य को लेकर सवाल उठ रहे हैं। कई लोग उनके आक्रमक रवैये के कारण उन्हें मानसिक रोगी समझने लगे हैं। ऐसे में कई लोगों ने उनकी मेडिकल रिपोर्ट जारी करने की मांग की थी। इस विषय पर व्हाइट हाउस ने कहा था कि डोनाल्ड ट्रंप की इस सप्ताह होने वाले मेडिकल टेस्ट की रिपोर्ट जारी की जाएगी। लेकिन इसमें उनकी मनोचिकित्सक जांच नहीं होगी।

हाल ही में प्रकाशित हुई एक किताब में उनके स्वास्थ्य के प्रति आशंकाएं जताई गई थी। बता दें कि किताब में लिखा गया था कि कुछ दिनों से ट्रंप अपने पुराने दोस्तों और पुरानी बातों को भी याद रखने में असमर्थ हैं। ट्रंप भाषण के दौरान एक ही बात कई बार दोहरा रहे हैं। इससे नाराज होकर ट्रंप ने ट्विटर पर अपने आप को बहुत ही स्थिर और होशियार व्यक्ति बताया था।

Patanjali Advertisement Campaign

You may also like

शेख हसीना ने कहा- वाजपेयी ने क्षेत्रीय शांति व समृद्धि के लिए काम किया

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन