अधिक मीठे के सेवन से नहीं बल्कि इन 4 कारणों से होती है डायबिटीज की समस्या

- in हेल्थ

आजकल के समय में लोगों का जीवन अधिक व्यस्त रहता है जिसके कारण वह अपने शरीर पर ध्यान नहीं दे पाते हैं व्यस्त जीवनशैली और अनियमित खानपान की वजह से व्यक्ति को कई बीमारियां उत्पन्न होने लगती है इन्हीं बीमारियों में से एक डायबिटीज की समस्या है हर घर में आपको एक डायबिटीज का रोगी अवश्य मिल जाएगा ज्यादातर लोगों का ऐसा मानना है कि डायबिटीज की बीमारी अधिक मीठा खाने की वजह से होती है इसलिए आप लोगों ने सुना भी होगा कि लोग कहते हैं ज्यादा मीठा मत खाओ डायबिटीज हो जाएगी परंतु यह बात सच नहीं है क्योंकि मीठा खाने की वजह से डायबिटीज की बीमारी नहीं होती है परंतु डायबिटीज की बीमारी में डॉक्टर मीठा ना खाने की सलाह अवश्य देते हैं।

जिन व्यक्तियों का नार्मल ब्लड शुगर है वह मीठा खा सकते हैं मीठा खाने और डायबिटीज में किसी प्रकार का कोई कनेक्शन नहीं होता है डायबिटीज के बहुत से मरीज ऐसे हैं जो मीठा नहीं खाते हैं और कुछ ऐसे हैं जिनको मीठा बिल्कुल भी पसंद नहीं है परंतु इन सबके बावजूद भी वह डायबिटीज की समस्या से परेशान है दरअसल, डायबिटीज होने का मुख्य कारण इंसुलिन की कमी होती है मीठा खाने का कोई मतलब नहीं है डायबिटीज के मरीज मिठाई डॉक्टर की सलाह से खा सकते हैं इसके साथ ही अगर आप मिठास चाहते हैं तो शक्कर की जगह कम कैलोरी वाला स्वीटनर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

वैसे देखा जाए तो डायबिटीज दो प्रकार की होती है टाइप ए और टाइप बी, जब शरीर का इम्यून सिस्टम इंसुलिन उत्पन्न करने वाली कोशिकाओं को समाप्त कर देता है तब उसे टाइप ए डायबिटीज कहा जाता है वही जब शरीर इंसुलिन पैदा करने में असमर्थ होता है तो टाइप बी डायबिटीज के नाम से जाना जाता है परंतु इन दोनों ही स्थितियों में मीठा खाने से कोई संबंध नहीं होता है आज हम आपको इस लेख के माध्यम से डायबिटीज होने का मुख्य कारण क्या है इसके विषय में जानकारी देने वाले हैं।

आइए जानते हैं डायबिटीज की समस्या होने का कारण

  • जो व्यक्ति पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं उनको डायबिटीज होने की संभावना बढ़ जाती है कभी-कभी कम सोना सामान्य बात है परंतु अगर आप लगातार अपनी पूरी नींद नहीं कर पाते हैं तो आपको सतर्क होने की जरूरत है क्योंकि ऐसे व्यक्ति डायबिटीज की बीमारी के शिकार जल्दी हो जाते हैं।
  • अगर व्यक्ति का मोटापा अधिक है तो यह डायबिटीज की वजह बन सकती है अधिक मात्रा में जंक फूड या शुगर खाने से शरीर का वजन बढ़ने लगता है जिसकी वजह से आप बहुत सी बीमारियों की चपेट में आने लगते हैं अगर आप इन चीजों के सेवन के साथ-साथ अपने शरीर के वजन को भी नियंत्रित रखते हैं तो आप डायबिटीज की समस्या से बच सकते हैं।
  • विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि अधिक तनाव में रहने वाले व्यक्ति का शुगर लेवल बढ़ जाता है यदि कोई व्यक्ति लगातार तनाव या अवसाद जैसी स्थिति में घिरा रहता है तो उसको डायबिटीज होने की संभावना अधिक रहती है।
  • जो व्यक्ति दिन भर अपने दफ्तर में कुर्सी पर बैठकर अपना काम करते हैं और बिल्कुल भी व्यायाम नहीं करते हैं उन व्यक्तियों को डायबिटीज होने की संभावना 80% तक बढ़ जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल में रखती है राई

राई के छोटे-छोटे दाने भारतीय रसोई में बहुत