पहली बार बाइडन से मिले रूस के राष्ट्रपति, दिया ये खास तोहफा…

जेनेवा में पहली बार एक-दूसरे से मुलाकात करने पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को एक खास चश्मा गिफ्ट के तौर पर दिया। पिछले हफ्ते जेनेवा में हुई ऐतिहासिक बैठक के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को ये गिफ्ट दिया। 

हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति की ओर से दिया गया ये चश्मा अब चर्चा का विषय बन गया है। इस चश्मे को अमेरिकी कंपनी ने तैयार किया है, जो अमेरिकी सेना और नाटों देशों को उसे सप्लाई करती है। चश्मे को बनाने वाली कंपनी रनडोल्फ यूएसए ने कहा कि उसने HGU-4/P Aviator सनग्लासेस को फाइटर पायलट के लिए डिजाइन किया है। 

पुतिन को गिफ्ट के तौर पर दिए गए चश्मे को बनाने में छह हफ्ते का समय लगा था। 200 स्टेप्स के बाद पुतिन को दिए जाने वाला कोनकोर्ड स्टाइल में बना चश्मा तैयार हुआ था। इसका नाम 20वीं शताब्दी के सुपरसोनिक विमान के नाम पर रखा गया था। बता दें कि रनडोल्फ इंजीनियरिंग की आधिकारिक वेबसाइट पर एक मैट ब्लैक पोलराइज्ड जोड़ी की कीमत करीब 20,000 रुपये है। 

रनडोल्फ इंजीनियरिंग कंपनी के अध्यक्ष पीटर वाज्किविज्को ने कहा कि उन्हें ये देखकर बहुत खुशी हुई कि उनकी कंपनी की ओर से बनाए गए धूप के चश्मे को एक राजनयिक टोकन बनते देखकर बहुत अच्छा लगा। उन्होंने कहा कि इस बैठक के बाद से उनका फोन लगातार बजने लगा और इस उत्साह को देखकर वो काफी खुश थे। 

पीटर ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को अमेरिका की राष्ट्रीय विरासत के प्रतीक के रूप में वे चश्मे दिए हैं। बता दें कि इस तरह के चश्मे अमेरिकी सेना द्वारा पहने जाते हैं। कंपनी का अमेरिकी सेना के साथ साल 1978 से करार है, जो हर महीने लगभग 25,000 जोड़े खरीदती है। इसके अलावा रनडोल्फ कंपनी ने अमेरिका की आम जनता को भी ये चश्मे बेचती है। 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button