प्रयागराज में चंद्रशेखर आजाद सेतु पर वाहनों का आवागमन शुरू, 6 जून तक ही देना होगा बढ़ा किराया

प्रयागराज में चंद्रशेखर आजाद सेतु (फाफामऊ पुल) पर वाहनों का आवागमन शुरू हो गया है, लेकिन रोडवेज की बसें अभी इस पुल पर नहीं गुजरेंगी। गंगापार करके लखनऊ, प्रतापगढ़, अयोध्या, सुल्तानपुर आदि रूटों पर चलने वाली बसें अभी घूमकर ही चलेंगी। इसके चलते यात्रियों को किराए में सहूलियत नहीं मिलेगी। सात जून से पुल पर बसों का आवागमन शुरू हो जाएगा। इसके साथ किराए में छूट मिलने लगेगी।

एक अप्रैल से रोडवेज बसों का रूट डायवर्जन है : एक अप्रैल से पुल बंद होने के बाद रोडवेज बसों का रूट डायवर्ट कर दिया गया है। अभी बसों को काफी घूमकर प्रयागराज शहर आना और जाना हो रहा है। इससे शहरों की दूरी और किराया दोनों बढ़ गया है। एक महीने के लिए बंद फाफामऊ पुल पर दो पहिया और चार पहिया वाहन एक मई से पुन: चलने लगे हैं। पुल के रोडवेज बसों के लिए पुन: चालू करने के बाद ही किराए में छूट मिलेगी।

रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक बोले : रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक टीकेएस विसेन ने बताया कि अगर फाफामऊ पुल खोल दिया जाता है और रोडवेज बसें इस पुल से आवागमन करने लगेंगी तो बस का किराया घट जाएगा। लेकिन, डायवर्ट रूट से ही संचालन होने पर किराए में कमी नहीं आएगी।

कितना बढ़ा है किराया : इन दिनों प्रयागराज से लखनऊ जाने के लिए 249 रुपये की जगह 278 रुपये, फैजाबाद का किराया 17 रुपये बढ़कर 219, अयोध्या का किराया 233 रुपये से 244 रुपये है। बहराइच के लिए अब 366 की जगह 384, बस्ती का 18 रुपये बढ़कर 320 रुपये हैं। स्थानीय रूटों में लालगोपालगंज के लिए अभी 50 की जगह 81 रुपये, कुंडा के लिए 71 रुपये की जगह 99 रुपये व रायबरेली का किराया 151 से 180 हो गया है। इसके अलावा वाल्वो और जनरथ बसों का भी किराया बढ़ा हुआ है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

20 − 13 =

Back to top button