18 मई के बाद का लॉकडाउन भी बेहद प्रभावी होगा: CM शिवराज सिंह चौहान

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कहा कि स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार अगले चरण का लॉकडाउन होने की संभावना है क्योंकि पीएम मोदी ने गरीबों के कष्टों की बात की थी और उन स्थानों पर आर्थिक गतिविधियों को रोकने के लिए पेश किया, जहां कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार अधिक है।

एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने राज्यों के बीच समन्वय सुनिश्चित करने का भी आह्वान किया कि जिससे प्रवासी श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचने के लिए परिवहन प्रदान किया जाए ताकि उत्तर प्रदेश में शनिवार सुबह जैसी सड़क दुर्घटना न हो जिसमें 24 लोगों की मौत हो गई।

प्रवासी श्रमिकों की विशाल संख्या कई बड़े शहरों से सैकड़ों किलोमीटर पैदल चलकर अपने गांवों की ओर बढ़ रही है क्योंकि कोरेाना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन ने मजदूरों की वित्तीय स्थिति को अनिश्चित बना दिया है।

शिवराज चौहान ने कहा कि उनकी सरकार ने प्रवासी कामगारों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए 1,000 बसों की तैनाती की है। जो अन्य राज्यों से हैं, जो मध्य प्रदेश की सीमा तक पहुंचाया जाएगा।

मध्य प्रदेश सरकार उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ और झारखंड जैसे राज्यों के साथ भी समन्वय स्थापित कर रही है, जहां से बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिक फंसे हुए हैं, ताकि उन्‍हें उनकी  सीमाओं तक पहुंचाया जा सके। उन्होंने कहा कि किसी भी मजदूर को सड़कों पर नहीं चलना होगा और जब तक मध्य प्रदेश में है, वह भूखा नहीं रहेगा। 

रविवार को लॉकडाउन के तीसरे चरण की समाप्ति हो रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन-4.0 पूरी तरह से अलग होने की बात कहने पर शिवराज चौहान ने कहा कि अब यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कोरोना वायरस के साथ रहते हुए आर्थिक गतिविधियों को गति प्रदान की जाए। लॉकडाउन के कारण छोटे, लघु उद्योगों को नुकसान उठाना पड़ा है। ऐेसे में  COVID -19 से लड़ना होगा।   

यह देखते हुए कि प्रधान मंत्री ने राज्यों को लॉकडाउन के अगले चरण की प्रकृति पर फैसला लेने के लिए कहा है, उन्होंने कहा कि स्थानीय परिस्थितियां इसे निर्धारित करेंगी।

ग्रीन जोन में सभी तरह की गतिविधयां होंगी। ऑरेंज जोन में कंटनमेंट जोन को छोड़कर काम करने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि, छूट के बाद भी भीड़ को इकट्ठा नहीं होने दिया जाएगा और इसलिए मॉल और सिनेमा हॉल जैसी जगहें बंद रहेंगी।

उन्होंने कहा कि धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रम पर रोक रहेगी। उन्होंने लोगों से अपने घरों में ईद मनाने की सलाह दी। चौहान ने कहा कि कोविड -19 के कारण विकास मॉडल को बदलना होगा और सरकारों को अब लोगों को उनके घरों के पास रोजगार प्रदान करने पर जोर देना होगा।

पीएम मोदी के “आत्मनिर्भर भारत” का  आह्वान इस दिशा में एक कदम है और मध्य प्रदेश सरकार ने निवेश को बढ़ावा देने और दीर्घकालिक समाधान के लिए रोजगार पैदा करने के लिए कृषि और श्रम सुधार किए हैं।

आरएसएस से जुड़े भारतीय मजदूर संघ द्वारा उनकी सरकार के लाए गए श्रम सुधारों के कड़े विरोध के बारे में पूछे जाने पर शिवराज चौहान ने कहा कि यह उपाय मजदूरों के हित में हैं और इस संबंध में बीएमएस के साथ उनकी बातचीत जारी रहेगी। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button