‘जादूगर’ के नाम से विख्यात इस नेता का गुजरात में नही चला जादू

कांग्रेस पार्टी में ‘जादूगर’ माने जाने वाले एक दिग्गज नेता का गुजरात चुनाव के नतीजों में जादू कुछ फीका ही रह गया। भले ही  गुजरात चुनाव के नतीजों में कांग्रेस का जैसा भी प्रदर्शन रहा हो उसका श्रेय राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और गुजरात चुनाव के प्रभारी अशोक गहलोत को दिया जा रहा है।
'जादूगर' के नाम से विख्यात इस नेता का गुजरात में नही चला जादू
पंजाब चुनाव के बाद गहलोत को मी​डिया ने जादूगर के तौर पर जिस तरह से पेश किया था उसके मुकाबले का उनका गुजरात में वैसा जादू नहीं चल पाया जैसा कि पार्टी ने उनसे उम्मीद की थी। अशोक गहलोत को भाजपा लहर के बीच पंजाब में कांग्रेस की वापसी कराने का श्रेय दिया जाता है।

वहीं वर्तमान गुजरात चुनाव में मोदी और भाजपा विरोधियों को कांग्रेस खेमे में लाने के लिए भी गहलोत ने ही रणनीति तैयार की थी।

राहुल से बढ़ीं नजदीकियां

माना जा रहा है कि गुजरात चुनावों में कांग्रेस के प्रदर्शन के बाद गहलोत का कद और भी बढ़ने की संभावना है। पार्टी में अंदरूणी स्तर पर गहलोत की राजनीतिक कौशल की बड़े बड़े नेता तारीफ करते हैं। 

भले ही राजस्थान में पीसीसी चीफ सचिन पायलट राहुल गांधी की पसंद हो मगर गुजरात चुनाव में कांग्रेस प्रभारी रहे अशोक गहलोत अब राहुल के काफी करीब आ गए हैं। राहुल ने कई बार चुनावी रैलियों में गहलोत के मुख्यमंत्री कार्यकाल की तारीफ भी की थी।

गहलोत इंदिरा गांधी के समय से राजनीति में हैं, इस कारण सोनिया गांधी की टीम में भी उनकी पैठ अच्छी रही है और राहुल की ताजपोशी से गहलोत का कद बढ़ने की तैयारियां भी तेज हो गई हैं। 

 

Facebook Comments

You may also like

अभी-अभी: मुख्यमंत्री योगी ने यूपी को दिया विकास का गुजरात मॉडल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश में कमान