उत्तराखण्ड: सुलगने लगे हैं गढ़वाल और कुमाऊं के जंगल, वन विभाग लाचार

- in उत्तराखंड, राज्य

देहरादून: तपिश बढ़ने के साथ ही गढ़वाल और कुमाऊं के जंगल धधकने लगे हैं। हालांकि वन विभाग की टीम आग बुझाने में जुटी है, लेकिन विषम भौगोलिक परिस्थितियां चुनौती बन रही हैं। ऐसे में वन विभाग लाचार साबित हो रहा है। उत्तराखण्ड: सुलगने लगे हैं गढ़वाल और कुमाऊं के जंगल, वन विभाग लाचार

गढ़वाल के केदारनाथ वन्य जीव प्रभाग के तहत कनेरी के जंगलों में आग भड़क गई। धीरे-धीरे आग का दायरा डिडोली, नंदप्रयाग और तेफना के जंगलों तक फैल गया। केदारनाथ वन्य जीव प्रभाग के गोपेश्वर रेंज की रेंज अधिकारी आरती मैठाणी के नेतृत्व में 14 सदस्यीय टीम मौके पर आग बुझाने के काम में जुटी हुई है। 

आग बुझाने के लिए स्थानीय गांवों के ग्रामीणों की मदद भी ली जा रही है। रेंजर आरती मैठाणी ने बताया कि आग लगने के कारणों का पता लगाया जा रहा है। उत्तरकाशी जिले में कुछ ऐसे ही हालात हैं। यहां उत्तरकाशी और यमुना वन प्रभाग के जंगल सुलग रहे हैं। 

बुधवार से भड़की आग पर काबू पाने के लिए वन विभाग की टीम मौके पर है। दूसरी ओर कुमाऊं के पिथौरागढ़ जिले में  डीडीहाट और धारचूला के जंगल भी आग की चपेट में आ चुके हैं। वहीं, मुनस्यारी तहसील के रामगंगा और भुजगड़ नदी घाटी के जंगलों में भी ऐसे ही हालात हैं। 

सम्बंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्‍तराखंड: मानसून सत्र के दूसरे दिन कांग्रेस ने अतिक्रमण के मसले को लेकर किया हंगामा

देहरादून: उत्‍तराखंड विधानसभा में मानसून सत्र के दूसरे