लाखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपित केंद्रीय राज्य मंत्री के पुत्र आशीष मिश्र समेत सभी आरोपितों की दीपावली होगी जिला जेल में…

लाखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपित केंद्रीय राज्य मंत्री के पुत्र आशीष मिश्र समेत सभी आरोपितों की दीपावली जिला जेल में होगी। अधिवक्ता की मौत पर शोक प्रस्ताव के चलते बुधवार को आशीष मिश्र, आशीष पाण्डेय व लवकुश राणा की जमानत अर्जी पर जिला जज की अदालत में सुनवाई नहीं हो सकी। बुधवार को नियत समय पर आशीष मिस्र के अधिवक्ता अवधेश दुबे व अवधेश कुमार सिंह, अभियोजन पक्ष के अधिवक्ता डीजीसी अरविंद त्रिपाठी, एसपीओ एसपी यादव मय विवेक के अदालत में मौजूद रहे। लेकिन शोक प्रस्ताव के चलते बहस नही हो सकी।

जिला जज मुकेश मिश्र ने विवेचक को आदेशित करते हुए बताया कि अगली सुनवाई 15 नवम्बर नियत की जाती है अगली नियत तिथि पर सुनवाई के समय दोनो मुकदमो की केस डायरी, आरोपितों का आपराधिक इतिहास , कब्जे में लिए गए असलहे व मोबाइल की विधि प्रयोगशाला की रिपोर्ट समेत कोर्ट में मौजूद रहेंगे, दोनो पझो की तरफ से घटना की बाबत एक एक फोटो ग्राफ भी अदालत में पेश किया गया। सुनवाई के समय बड़ी तादात में अधिवक्ता जिला जज की अदालत में बहस सुनने के लिए मौजूद थे। जिला जज मुकेश मिश्र ने अभियोजन पक्ष को समस्त कागजात समेत नियत तिथि पेश करने के आदेश दिए साथ ही जमानत अर्जी पर सुनवाई के लिए 15 नवम्बर की तिथि नियत की गौरतलब है कि 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में भारी हिंसा के बाद 8 लोगों की मौत हो गई थी जिसके मुख्य आरोपित आशीष समेत 13 लोगों को एसआईटी ने गिरफ्तार किया है जबकि दूसरे पझ के दो लोगो को गिरफ्तार किया गया था। 

लखीमपुर खीरी कांड में यह है 15 आरोपितः आशीष पांडे, लवकुश राणा, आशीष मिश्र , शेखर भारती, अंकित दास, लतीफ उर्फ काले , सुमित जयसवाल, नंदन सिंह, सत्य प्रकाश त्रिपाठी उर्फ सत्यम, शिशुपाल , मोहित त्रिवेदी, धर्मेंद्र कुमार, रिंकू राणा , गुरविंदर सिंह , विचित्र सिंह

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + 19 =

Back to top button