FTP में टेस्ट चैंपियनशिप

आईसीसी की ओर से जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक, एफटीपी को ज्यादा से ज्यादा बाइलेट्रल क्रिकेट शुरू करने के मकसद से तैयार किया गया है. इसमें पहली बार शुरू की गई टेस्ट चैंपियनशिप विश्व रैंकिंग के टॉप नौ देशों के बीच खेली जायेगी, जिसमे सभी टीमों के 6-6 मैच होंगे. 15 जुलाई 2019 से 30 अप्रैल 2021 तक होने वाली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में टीमें तीन मैच अपने घर में और तीन मैच घर से बाहर खेलेगी. टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल लॉर्ड्स में खेला जायेगा. ये टेस्ट चैंपियनशिप साल 2019 से लेकर साल 2021 तक चलेगी.

रोहित ने पास किया यो-यो टेस्ट, आलोचकों पर साधा निशाना

2020 से 2022 तक वनडे लीग

आईसीसी ने टेस्ट चैंपियनशिप के अलावा 13 देशों के बीच होने वाली वनडे लीग शुरु करने की भी घोषणा की है जो कि एक मई 2020 से 31 मार्च 2022 तक खेली जाएगी. वनडे लीग में सभी टीमें दो साल के अंदर एक दूसरे से घर के बाहर और घर के अंदर आठ सीरीज खेलेगी. वनडे लीग में टेस्ट मैच खेलने वाले 12 देश और नीदरलैंड 13वें देश के रूप में हिस्सा लेगा.

वनडे लीग यानी वर्ल्ड कप का टिकट

वनडे लीग 2023 में खेली जाने वाली विश्व कप के लिए क्वालीफाइंग टूर्नामेंट होगा. 31 मार्च 2022 तक विश्व रैंकिंग की टॉप-सात टीमें सीधे विश्वकप के लिए क्वालीफाई करेंगी, जबकि मेजबान होने के नाते भारत को इसमें सीधे एंट्री मिलेगी. बाकी पांच देशों को आईसीसी क्रिकेट विश्व कप क्वालीफायर में दूसरा मौका दिया जाएगा.

2020 में अफगानिस्तान का ऑस्ट्रेलिया दौरा

आईसीसी ने अपने फ्यूचर टूर कार्यक्रम में अफगानिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट मैच को भी जगह दी है. अफगानिस्तान की टीम 2020 में टेस्ट मैच खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगी. एफटीपी के मुताबिक, न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम लगभग 30 साल के बाद एक बार फिर से मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में बॉक्सिंग डे टेस्ट खेलेगी.