Home > राज्य > उत्तराखंड > इंदिरा हृदयेश ने कहा- देश में फिर से पैदा हुए नोटबंदी जैसे हालात

इंदिरा हृदयेश ने कहा- देश में फिर से पैदा हुए नोटबंदी जैसे हालात

हल्द्वानी: नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश ने केंद्र पर प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा कि नोटबंदी का दुष्प्रभाव पूरे देश के बैंकों के एटीएम में कतारों में लगी जनता को देखकर महसूस किया जा सकता है। एक बार फिर से देश में नोटबंदी जैसे हालात पैदा हो गए।पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद अब फिर से देश की जनता एटीएम की कतारों में खड़ी है। शादियों का सीजन होने के कारण जनता बेहद लाचार व परेशान हैं। नकदी को लेकर देशभर में हाहाकार मचा है। इंदिरा हृदयेश ने कहा- देश में फिर से पैदा हुए नोटबंदी जैसे हालात

उन्होंने कहा कि भारत सरकार व वित्त मंत्रालय वित्तीय प्रबंधन में पूर्णतया असफल साबित हुआ है। आज हालात यह हो गए हैं कि देश की जनता आर्थिक मोर्चे पर अपने को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। देश मे आर्थिक अराजकता का माहौल है। ऐसे माहौल में मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी के कदम को सही ठहराना समझ से परे हैं।

किसानों के नुकसान पर चुप है राज्य सरकार

नेता प्रतिपक्ष डॉ. ह्रदयेश ने कहा कि राज्य में हुई अचानक हुई बारिश एवं ओलावृष्टि से फसलों का काफी नुकसान हुआ है। किसानों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए राज्य की भाजपा सरकार ने अभी तक कोई आश्वासन नहीं दिया है।  उन्होंने कहा कि नगर निगम की लापरवाही व गलत नीतियों के कारण पुरा शहर कूड़ाघर बन चुका है। ट्रंचिंग ग्राउंड प्रदूषण का अड्डा बन चुका है। यदि इस पर कार्यवाही नहीं हुई तो जनता सड़को पर उतरेगी। डॉ. ह्रदयेश ने कहा कि 29 को होने वाली आक्रोश रैली में उत्तराखंड से 10 हजार लोग पहुंचेंगे। प्रेस वार्ता में जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल व महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल मौजूद रहे।

Loading...

Check Also

कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा- सुप्रीम कोर्ट के जज को भी पता अयोध्या ही श्रीराम की जन्मस्थली

कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा- सुप्रीम कोर्ट के जज को भी पता अयोध्या ही श्रीराम की जन्मस्थली

अयोध्या में भगवान राम के मंदिर निर्माण को लेकर बढ़ी हुंकार के बीच योगी आदित्यनाथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com