गेंद टेंपरिंग विवाद में प्रायोजक मैगलन ने दिया क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका

- in खेल

गेंद से छेड़खानी मामले के बाद शर्मसार हो चुके ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम को एक और बड़ा झटका लगा है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष प्रायोजक (टॉप स्पॉन्सर) मैगलन ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड से अपनी साझेदारी खत्म कर दी है. मैगलन के चीफ एक्जीक्यूटिव और सह-संस्थापक हामिश डगलस ने इस बात की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि हमारी भागीदारी सच्ची भावना वाले खेल और प्रतिष्ठा, अखंडता, बेहतर नेतृत्व, समर्पण पर आधारित थी.

गेंद टेंपरिंग विवाद में प्रायोजक मैगलन ने दिया क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटकाउन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई पुरुषों की टेस्ट क्रिकेट टीम की नेतृत्व द्वारा की गई साजिश ने दक्षिण अफ्रीका के तीसरे टेस्ट के दौरान एक अनुचित फायदा हासिल करने के लिए स्पष्ट इरादों के साथ नियम तोड़े.

गौर हो कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के तमाम बड़े प्रायोजकों ने गेंद से छेड़खानी मामले के सामने आने के बाद ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था. हालांकि, जांच रिपोर्ट में मामले के सही पाए जाने और दोषियों पर बैन लगाने के फैसले से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की हुई किरकिरी के बाद प्रायोजक मैगलन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से अपना कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर लिया है.

130 करोड़ का कॉन्ट्रैक्ट खत्म

मैगलन ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ साल 2017 के अगस्त महीने में 20 मिलियन डॉलर (130 करोड़ रुपए) का कॉन्ट्रैक्ट साइन किया था. लेकिन अब ये बॉल टेम्परिंग मामले की भेंट चढ़ गई है. जानकारी के मुताबिक, गेंद से छेड़खानी प्रकरण के मद्देनजर मैगलन के अलावा क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अन्य प्रायोजक भी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड से अलग होने का मन बना रहे हैं. बताया जा रहा है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के बड़े कॉर्पोरेट प्रायोजक क्वांटास एयरवेज और सेनेटेरियम बॉल टेम्परिंग मामले के बाद से नाराज हैं. उन्हें अपनी कंपनी का नाम खराब होने का डर है.

क्वांटास एयरवेज ने कहा था कि मामले से हमें निराशा हाथ लगी है. हमें इस राष्ट्रीय और प्रतिष्ठित टीम से ऐसी उम्मीद नहीं थी. बता दें कि स्मिथ सेनेटेरियम कंपनी के ब्रांड एंबेस्डर हैं और कंपनी ने कहा था कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) की रिपोर्ट आने के बाद वह इसे आगे जारी रखने पर कोई फैसला करेंगे. अब जब गेंद से छेड़छाड़ मामले में स्मिथ पर एक साल के लिए प्रतिबंध लग चुका है, ऐसे में संभव है कि सेनेटेरियम अपने ब्रांड एंबेस्डर स्मिथ के खिलाफ कोई बड़ा फैसला ले. स्मिथ पर मैच अधिकारियों और अन्य को गुमराह करने की कोशिश करने का भी आरोप है.

इन दोनों प्रायोजकों के अलावा एएसआइसीएस, कॉमनवेल्थ बैंक ऑफ ऑस्ट्रेलिया, बीमाकर्ता बुपा, स्पेक्सावेरस, टोयोटा आदि भी अपने कॉन्ट्रैक्ट रप सोच-विचार कर रहे हैं. यही नहीं, गेंद से छेड़छाड़ के इस मामले ने ऑस्ट्रेलियन टेलीविजन नेटवर्क के साथ हुए 5 साल के टेलिकास्ट कॉन्ट्रैक्ट को भी खतरे में डाल दिया है.

वार्नर नहीं कर पाएंगे ऑस्ट्रेलिया की कप्तानीगेंद से छेड़छाड़ के मामले में मुख्य साजिशकर्ता घोषित किए गए डेविड वार्नर एक साल का प्रतिबंध काटने के बाद भी राष्ट्रीय टीम की कप्तानी नहीं कर पाएंगे. क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने यह घोषणा की. केपटाउन में हुई इस कुख्यात घटना की सीए की जांच में पता चला है स्टीव स्मिथ और कैमरन बेनक्राफ्ट को पता था कि क्या हो रहा है लेकिन वह वार्नर थे जिन्होंने गेंद के हालात को कृत्रिम रूप से बदलने के प्रयास की योजना बनाई थी.

IPL और भारत के खिलाफ सीरीज से बाहर हुए वार्नर और स्मिथ

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़खानी प्रकरण के मद्देनजर स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया, जिससे वे इस साल आईपीएल से बाहर हो गए. जबकि कैमरून बैनक्राफ्ट पर 9 महीने का प्रतिबंध लगाया गया है. तीनों प्रतिबंध के कारण भारत के खिलाफ नवंबर-दिसंबर में होने वाली श्रृंखला से भी बाहर रहेंगे. विराट कोहली की टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 टेस्ट, 3 वनडे और 3 टी20 मैच खेलेगी.

You may also like

LIVE Asia Cup: पाकिस्तान ने टॉस जीत चुनी बल्लेबाजी

पाकिस्तान ने बुधवार को एशिया कप में भारत