SP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा-UP में अपराधी मचा रहे तांडव, मुख्यमंत्री कह रहे राम नाम सत्य

लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में अपराधी तांडव मचा रहे हैं, मुख्यमंत्री जी राम नाम सत्य कह रहे हैं और पुलिस तंत्र अपराधियों के आगे पस्त हिम्मत दिख रहा है. हत्या, लूट और अपहरण की घटनाओं की इधर बाढ़ आ गई है. ध्वस्त कानून व्यवस्था के चलते जन सामान्य की जिंदगी पर हर क्षण खतरा मंडराता रहता है. भाजपा राज में भययुक्त का माहौल बन गया है. भाजपा ने उत्तर प्रदेश को अपराध प्रदेश बना दिया है.

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि खुद मुख्यमंत्री के वीवीआईपी जनपद गोरखपुर में हर तीसरे दिन हत्या की वारदातों को अंजाम दिया जा रहा है. जनपद का क्राइम ग्राफ चढ़ता जा रहा है. अपराधी तत्वों को संरक्षण दिया जा रहा है. सरकार की खामोशी उनके हौसले बढ़ा रही है. पिछले 20 दिनों में हत्या, फायरिंग, चोरी, छेड़खानी और किशोरियों के अपहरण की घटनाएं ध्वस्त कानून व्यवस्था की नजीर हैं. राजभवन किंकर्तव्यविमूढ़ की स्थिति में है.

राजधानी में बढ़ गया अपराध

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

प्रदेश की राजधानी भी अपराध से भयाक्रांत है. बख्शी का तालाब क्षेत्र की ग्राम पंचायत शिवपुरी में रण बाबा महादेव मंदिर के पुजारी फकीरे दास की लूट के बाद हत्या कर दी गई. वे 20 सालों से वहां पुजारी थे. पिछले दिनों लखनऊ में सिलसिलेवार तीन वारदात में बमबाजी से दहशत हुई. जानकीपुरम, हसनगंज और मड़ियांव में अपराधी तत्वों ने लोगों को डराने और अपना वर्चस्व जताने के लिए ये घटनाएं कीं.
अखिलेश ने कहा कि मासूम की जान बचाने में पुलिस की नाकामी अभी कासगंज में दिखाई दी. यहां गांव पिथुनपुर में एक 10 वर्षीय बालक लोकेश की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई. पुलिस सक्रिय होती तो उसकी जान बचाई जा सकती थी.

आजमगढ़ में निर्वतमान प्रधानपति की हत्या

आजमगढ़ में सड़क पर साइड मांगने पर एक दलित युवक की कुछ दबंगों ने पिटाई कर दी. मामला एससी, एसटी का होते हुए भी पुलिस ने वह सक्रियता विवेचना में नहीं दिखाई जिसकी अपेक्षा थी. इसी जनपद के लालगंज में एक निवर्तमान प्रधानपति की हत्या कर दी गई.

यूपी की विदेशों तक हो रही बदनामी

सपा प्रमुख ने कहा कि कहना न होगा कि भाजपा राज में उत्तर प्रदेश की बदनामी देश ही नहीं विदेशों तक में हुई है. अपराधों को संरक्षण देने की वजह से किसी काण्ड की विवेचना और पुलिस कार्यवाही में ढील दे दी जाती है. इससे अदालतों में अपराधियों को जमानत मिल जाती है और वे फिर अपराध करने लगते हैं. उन पर लगाम लगाना भाजपा सरकार के वश में नहीं है. जनता अब भाजपा से मुक्ति और समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर ही अपनी सुरक्षा के बारे में निश्चिंत हो सकती है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button