क्रिकेट इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा कारनामा, इस गेंदबाज ने 1 रन देकर लिए 7 विकेट

- in खेल

पाकिस्तान के सरफराज नवाज के नाम टेस्ट क्रिकेट इतिहास का सबसे खतरनाक स्पेल डालने का रिकॉर्ड दर्ज है। ठीक 39 साल पहले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट में इस गेंदबाज ने ऐसा रिकॉर्डतोड़ प्रदर्शन किया जिसे शायद ही कभी तोड़ा जा सकेगा।

382 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया मैच के अंतिम दिन दोपहर को 3 विकेट पर 305 रन बना चुका था। एलन बॉर्डर शतक बनाकर क्रीज पर थे जबकि किम ह्‍यूज सेंचुरी के करीब थे। ऑस्ट्रेलियाई टीम की जीत तय लग रही थी, ऐसे में नवाज ने सनसनीखेज प्रदर्शन कर अपना नाम इतिहास में दर्ज करवा दिया।

उन्होंने छोटे रनअप से गेंदबाजी की और स्विंग और कटर का जबर्दस्त उपयोग कर कंगारू बल्लेबाजी पंक्ति की कमर तोड़ दी। उन्होंने इस स्पेल में 33 गेंदों में 1 रन देकर 7 विकेट लेते हुए मेजबान टीम की दूसरी पारी को 310 पर समेट दिया। नवाज ने इस स्पेल के दौरान शतकवीर बॉर्डर (105) को बोल्ड कर अपने अभियान की शुरुआत की और एलन हर्स्ट को विकेटकीपर वसीम बारी के हाथों झिलवाकर इसका अंत किया।

अब शमी ने किया हमला, कहा- हसीन जहां ने छुपाई थी पहली शादी और बच्चों की बात

उन्होंने इस पारी में 86 रनों पर 9 विकेट लिए। नवाज दुर्भाग्याशाली रहे कि अंतिम दिन ग्राहम यलप रन आउट हो गए थे, अन्यथा उनके पास पारी के पूरे 10 विकेट लेने के रिकॉर्ड का मौका रहता।

टेस्ट क्रिकेट में इससे पहले किसी गेंदबाज ने रिवर्स स्विंग का इतना बेहतरीन उपयोग नहीं किया था। नवाज ने 15 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 55 टेस्ट मैचों में 32.75 की औसत से 177 विकेट लिए। उन्होंने 45 वनडे मैचों में 23.22 की औसत से 63 विकेट अपने नाम किए। 1979 का मेलबर्न टेस्ट नवाज के करियर में हमेशा खास बना रहेगा, क्योंकि उन्हें अकेले दम पर ऑस्ट्रेलिया के मुंह से जीत का निवाला छीना था।

You may also like

इंग्लैंड दौरे पर शर्मनाक प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम को रिकी पोंटिंग ने दी चेतावनी

मेलबर्नः इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम के शर्मनाक प्रदर्शन