श्रेयस अय्यर ने अपने करियर में देखें हैं कई उतार-चढ़ाव, जानें अब तक का सफर

नई दिल्ली, वर्ल्ड कप 2019 में भारत के फ्लाप होने की कहानी नंबर चार के बल्लेबाज के इर्द-गिर्द रही थी, क्योंकि इससे काफी समय पहले से भारत के पास नंबर चार का बल्लेबाज नहीं था। ऐसे में चयनकर्ताओं ने श्रेयस अय्यर को सीमित ओवरों में नंबर चार पर मौका दिया और श्रेयस अय्यर, जो घरेलू क्रिकेट में लगातार दमदार प्रदर्शन कर रहे थे, उनको भारत की वनडे और टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मौका दिया गया।

वैसे तो श्रेयस अय्यर 2017 में ही भारत की टेस्ट, वनडे और टी20 टीम के साथ ट्रेवल कर चुके थे। टेस्ट क्रिकेट में वे आस्ट्रेलिया के खिलाफ बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज में विराट कोहली के बैकअप के तौर पर थे, जबकि टी20 और वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में उन्होंने डेब्यू किया था। हालांकि, वे टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 6 मैच और वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में भी 6 मैच खेलकर बाहर हो गए।

अय्यर की याद आई

भारतीय टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं को श्रेयस अय्यर की याद उस समय आई, जब टीम को नंबर चार के बल्लेबाजी के लिए आलोचना झेलनी पड़ी, क्योंकि नंबर चार पर विजय शंकर, दिनेश कार्तिक, अंबाती रायुडू (कम मौके मिले) और रिषभ पंत को मौका दिया गया, लेकिन बल्लेबाज काम नहीं आया। वनडे विश्व कप 2019 के बाद श्रेयस अय्यर टीम में चुने गए और उन्होंने दमदार खेल दिखाते हुए टीम में वापसी की।

दाएं हाथ के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने विश्व कप 2019 के बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार चार मैचों में चार अर्धशतक जड़े थे। टी20 सीरीज में भी उनका प्रदर्शन अच्छा था। इसी के दम पर वे सीमित ओवरों की सीरीज का हिस्सा बने और लगातार विराट कोहली की कप्तानी में खेलते रहे। हालांकि, इस दौरान श्रेयस अय्यर घरेलू क्रिकेट में सक्रिय नहीं रह सके और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से दूर रहे।

2021 में आई बड़ी मुश्किल

वहीं, 2021 में उन्होंने बहुत उतार-चढ़ाव देखे। इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीमित ओवरों की सीरीज में श्रेयस अय्यर चोटिल हुए, क्योंकि उनका कंधा डिसलोकेट हो गया था। इसकी सर्जरी उनको करानी पड़ी और इस बीच उनको आइपीएल 2021 के आधे सीजन से बाहर होना पड़ा और कप्तानी से भी हाथ धोना पड़ा। हालांकि, उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज में वापसी की।

श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज में श्रेयस अय्यर का प्रदर्शन औसत रहा था। माना जा रहा था कि विराट कोहली, रोहित शर्मा और केएल राहुल की अनुपस्थिति में श्रेयस अय्यर को कप्तान बनाया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। शिखर धवन टीम के कप्तान बने। हैरान करने वाली बात ये रही कि दिल्ली कैपिटल्स ने आइपीएल 2021 के दूसरे हाफ में उपलब्ध रहने के बाद भी कप्तानी श्रेयस अय्यर को नहीं सौंपी।

टी20 विश्व कप टीम में जगह नहीं!

इसके अलावा श्रेयस अय्यर को एक झटका उस समय भी लगा जब उनको टी20 विश्व कप 2021 के लिए टीम में तो चुना गया, लेकिन फाइनल फिफ्टीन में उनको मौका नहीं दिया गया। श्रेयस अय्यर को रिजर्व बल्लेबाज के तौर पर टीम के साथ रखा गया था। इसके अलावा वे न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए चुने गए थे, लेकिन कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए। ऐसे में टेस्ट डेब्यू को लेकर उनकी आलोचना हुई थी।

श्रेयस अय्यर ने इस साल अच्छा प्रदर्शन सीमित ओवरों की क्रिकेट में किया नहीं था और न ही वे लंबे समय से प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेल रहे थे। ऐसे में उनका टेस्ट डेब्यू आलोचना का केंद्र था, लेकिन श्रेयस अय्यर ने साबित कर दिखाया कि उनके अंदर ऐसा प्रतिभा है, जिसे किसी आलोचना के तले दबाया नहीं जा सका। श्रेयस अय्यर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू में शानदार शतक जड़ा। उन्होंने 105 रन की पारी खेली।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × five =

Back to top button