पीएम मोदी के साथ विज्ञापन में छपा शत्रुघ्न सिन्हा का नाम, लग रहे नए कयास

पटना। लगातार अपनी ही पार्टी पर सवाल खड़े करने वाले पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कभी राजद अध्यक्ष लालू यादव की तारीफ करते हैं तो कभी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और यशवंत सिन्हा के साथ खड़े होकर देश को बचाने की अपील तक करते हैं। शत्रुघ्न सिन्हा कई मौकों पर ट्वीट के जरिये और अपने बयानों के जरिये पार्टी पर हमला करते रहे हैं। इतना ही नहीं शत्रुघ्न सिन्हा बिहार के भाजपा नेतृत्व पर भी सवाल उठाने से नहीं चुकते हैं।पीएम मोदी के साथ विज्ञापन में छपा शत्रुघ्न सिन्हा का नाम, लग रहे नए कयास

इन सभी चर्चाओं के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बिहार दौरे पर बिहार से प्रकाशित सभी अखबारों को दिये गये विज्ञापन में बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा का भी नाम छपा है। नाम के छपने के साथ ही चर्चाओं का बाजार गर्म है।राजनीतिक जानकार मानते हैं कि पार्टी को कहीं से यह जानकारी मिली है कि शत्रु कभी भी पार्टी को अलविदा कह सकते हैं, इसलिए उन्हें मनाने की कवायद के लिए यह कदम उठाया गया है।

वहीं राजद के कुछ नेताओं का कहना है कि शत्रुघ्न सिन्हा पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा और वह पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर हमेशा बोले हैं और बोलते रहेंगे। वहीं भाजपा के कई नेताओं ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर कहा कि शत्रुघ्न सिन्हा को केंद्र सरकार से नहीं बल्कि बिहार के कुछ खास नेताओं से समस्या है और इसलिए वह पार्टी लाइन से अलग जाकर बयान देते हैं, लेकिन वह पार्टी के मजबूत साथी बने रहेंगे। 

विज्ञापन की शुरूआत में नमामि गंगे लिखा गया, उसके बाद नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत बड़ा कदम उठाने की बात कही गयी है। इस कार्यक्रम के उद्घाटन को लेकर प्रधानमंत्री मोदी के साथ पूरी विस्तृत जानकारी दी गयी थी, उसके बाद अतिथियों का जिक्र किया गया है।

कार्यक्रम में आने वाले अतिथियों के बारे में लिखा गया है, जिसमें राज्यपाल सत्यपाल मलिक, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी, बिहार के नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश कुमार शर्मा के बाद बीजेपी के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा का नाम है।

शत्रुघ्न सिन्हा का नाम हालांकि सबसे किनारे लिखा गया है, लेकिन चर्चा यह है कि शत्रु को पार्टी फिर से मुख्य धारा में लाने को तैयार है। वहीं दूसरी ओर राजनीतिक जानकारों का कहना है कि शत्रु को यह संदेश दिया गया है कि पार्टी उन्हें छोड़ नहीं रही है, बल्कि वह पार्टी के इतर जाकर बयानबाजी कर रहे हैं। 

हाल के दिनों में शत्रुघ्न सिन्हा ने बिल्कुल पार्टी के विरोध में जाकर बयान दिया था और इतना ही नहीं राहुल गांधी सहित लालू यादव और तेजस्वी के समर्थन में ट्वीट भी किया था। गौरतलब हो कि शत्रुघ्न सिन्हा मोदी सरकार बनने के बाद से हासिए पर चले गये हैं और चुनाव प्रचारकों की लिस्ट में भी इनका नाम नहीं रहता है।अचानक मोदी के विज्ञापन में सिन्हा का नाम दिखने के बाद सियासी चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

CM योगी का तीखा वार: कहा- अखिलेश की हालत ‘मान ना मान, मैं तेरा मेहमान’ वाली

उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा ने सपा प्रमुख