पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने लुधियाना पुलिस में फिल्म अभिनेत्री कंगना रनोट के खिलाफ दी शिकायत

पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता परमिंदर सिंह मेहता ने लुधियाना पुलिस में फिल्म अभिनेत्री कंगना रनोट (Kangana Ranaut) के खिलाफ शिकायत दी है। कहा कि देश की आजादी को लेकर विवादित बयान देने वाली कंगना के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनसे पद्मश्री पुरस्कार वापस लिया जाए। मेहता ने कहा कि कंगना के राष्ट्र विरोधी बयान देश का माहौल खराब कर सकते हैं।

उन्होंने रोष प्रगट करते हुए कहा कि कंगना पहले भी उटपटांग बयानबाजी करती रही हैं, लेकिन सरकार उस पर ठोक कार्रवाई नहीं कर रही है, बल्कि कंगना को उच्च श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। मेहता ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सुभाष चन्द्र बोस, लाल लाजपत राय, भगत सिंह जैसे असंख्य देशभक्तों ने यह आजादी दिलाई है। आजादी की जंग में 90 प्रतिशत शहीद पंजाब से हैं। पंजाब एक बार्डर स्टेट है।

मेहता ने कहा कि कंगना पहले भी देश व पंजाब विरोधी बयानबाजी करती आ रही हैं। फिर से एक सोची समझी साजिश के तहत यह बयान देकर पंजाबियों की भावनाओं को चोट पहुंचाई है। कंगना ने देश व पंजाब का माहौल खराब करने की कोशिश है। मेहता ने पुलिस कमिश्नर से शिकायत में कहा कि भारतीय दंड संहिता (आइपीसी) की धाराओं 504, 505 और 124ए के तहत कार्रवाई के लिए अनुरोध किया गया है। आइपीसी की धारा 504 ‘शांति भंग की मंशा से इरादतन अपमान’, 505 ‘सार्वजनिक क्षति’ से संबंधित बयानों से जुड़ी है, वहीं 124ए राजद्रोह से संबंधित है। \

बता दें, पंजाब में कंगना के खिलाफ पहले ही शिकायत हो चुकी है। किसान आंदोलन को लेकर भी कंगना टिप्पणी की थी। एक बुजुर्ग महिला पर की गई टिप्पणियों के बाद कंगना तब लोगों को निशाने पर आई थी। कंगना के ताजा बयान पर लोगों का कहना है कि उन्होंने  स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया है। केंद्र को उनका पद्म श्री पुरस्कार वापस लेना चाहिए और उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen + five =

Back to top button