SBI ने अपने ग्राहकों को लगा झटका, अकाउंट से बिना बताए काट लिए इतने रुपए

भारतीय स्टेट बैंक के कई ग्राहकों को पिछले हफ्ते एक SMS आया। इसमें बताया गया कि उनके खाते से 147.50 रुपये काटे गए हैं। यह SMS आने के बाद लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि आख‍िर ये पैस किस लिए कटे हैं। दरअसल जो मैसेज आया है, उसमें ये पैसे किस लिए काटे गए हैं, इस बारे में नहीं बताया गया है, लेक‍िन जब आप अपना स्टेटमेंट देखेंगे तो आपको पता चल जाएगा कि यह क्यों कटा है।

 

पिछले दिनों सोशल मीडिया से लेकर कई ऑनलाइन फॉरम पर लोगों ने अपनी श‍िकायत दर्ज की। इसमें उन्होंने कहा कि आख‍िर क्यों उनके पैसे काटे गए हैं। लोगों ने ट्व‍िटर पर SBI को टैग कर के इसके बारे में जानना चाहा। आगे हम आपको बता रहे हैं क‍ि आख‍िर आपके खाते से ये 147.50 रुपये क्यों कटे हैं और बैंक ने किस सुविधा की खातिर यह चार्ज काटा है।

भारतीय स्टेट बैंक की तरफ से यह पैसा डेबिट कार्ड एनुअल चार्ज और SMS अलर्ट चार्ज के तौर पर वसूला गया है। इन दोनों चार्ज में जीएसटी मिलाने के बाद यह कुल 147.50 रुपये पर पहुंचता है। दरअसल पिछले साल तक यह चार्ज 115 रुपये के करीब होता था, लेकिन पिछले साल अप्रैल में ही एसबीआई ने चार्जेस में बदलाव किया था। इस दौरान यह चार्ज भी बढ़ा दिया गया था।

मीसा भारती और उनके पति को विदेश ना जाने की शर्त पर पर सीबीआई कोर्ट से मिली सशर्त जमानत

 

 

फिलहाल डेबिट कार्ड एनुअल चार्ज के तौर पर आपका 125 रुपये प्लस जीएसटी कटा है। वहीं, 15 रुपये प्लस जीएसटी SMS चार्ज  के तौर पर वसूला गया है। इस तरह यह रकम 147.50 रुपये पर पहुंच गई है। अगर आपको लगता है कि आपके ये चार्ज नहीं कटने चाहिए थे या फिर आपको यह अपने बैंक स्टेटमेंट में नहीं दिखाई दे रहा है, तो आप इसकी श‍िकायत कर सकते हैं।

इसके लिए आप SBI को सीधे SMS भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको  “UNHAPPY’  8008202020 पर भेजना होगा। ऑनलाइन भी फीडबैक दिया जा सकता है। 10 दिन में नहीं हुआ निवारण तो:अगर आपकी श‍िकायत का निवारण 10 दिनों के भीतर नहीं होता है, तो आप नेटवर्क नोडल ऑफिसर से श‍िकायत कर सकते हैं। इसके अलावा आपके पास स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के चेयरमैन को भी शिकायत करने का अध‍िकार है। ।

 

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी