पटना में ‘दीन बचाओ-देश बचाओ’ सम्मेलन आज, नफरत के खिलाफ उठेगी आवाज

- in बिहार, राज्य

पटना। बिहार, झारखंड एवं ओडिशा के संगठन ‘इमारत-ए-शरिया’ की ओर से राजधानी के गांधी मैदान में रविवार को ‘दीन बचाओ-देश बचाओ’ सम्मेलन का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम का उद्घाटन अमीर-ए- शरीयत मौलाना मोहम्मद वली रहमानी करेंगे। सम्‍मेलन का उद्देश्य हिन्दू-मुस्लिम सौहार्द और भाईचारे के खिलाफ खड़ी ताकतों के खिलाफ लोगों को सचेत करना है। सम्‍मेलन के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

इमारत शरिया के नाजिम अनीसुर रहमान कासमी ने बताया कि रविवार की दोपहर एक बजे से यह सम्मेलन होगा, जो गैर राजनीतिक कार्यक्रम है। उन्होंने आग्रह किया कि इसे राजनीति से जोड़कर न देखा जाए। सम्मेलन की सुरक्षा के लिए बड़े पैमाने पर तैयारी की गई है। गांधी मैदान में जगह-जगह दंडाधिकारियों, पुलिस अधिकारियों को महिला और पुरुष बल के साथ तैनात किया गया है। सभी गेटों की कमान दंडाधिकारियों के जिम्मे है। गांधी मैदान के साथ-साथ शहर के विभिन्न चौक-चौराहों पर दंडाधिकारी तैनात किए गए हैं। बड़ी-बड़ी इमारतों से भी गांधी मैदान की सुरक्षा का ख्याल रखा जा रहा है।

सम्मेलन को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए पांच हजार सुरक्षाकर्मी, 300 दंडाधिकारी व 350 पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती की गई है। जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि सुरक्षा के साथ-साथ आने वाले लोगों को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रहीं हैं। एंबुलेंस के साथ चिकित्सक भी तैनात किए गए हैं।

रविवार के आयोजन के मुख्य वक्ता 

– हुज्जतुल इस्लाम हजरत मौलाना सैयद कलबे जव्वाद साहब नकवी किबला मुजतहिद लखनऊ

– हजरत मौलाना ओबैदुल्लाह खान आजमी पूर्व सदस्य राज्यसभा एवं सदस्य ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

– हजरत मौलाना खलीलुर रहमान सज्जाद नोमानी प्रवक्ता ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

– हजरत मौलाना उमरैन महफूज रहमानी माननीय सचिव ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

– हजरत मौलाना असगर इमाम मेहदी सलफी साहब अमीर जमीयत अहल-ए- हदीस

– हजरत मौलाना रफीकी कासमी जमात-ए- इस्लामी हिन्द नई दिल्ली

– हजरत मौलाना अबु तालिब रहमानी सदस्य ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड कोलकाता

– वामन मेश्राम अध्यक्ष वामसेफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के