सैमसंग कम्पनी ने उठाया बड़ा कदम, नोएडा से विदेशी बाजारों को मोबाइल फोन करेगी निर्यात

- in कारोबार
टेलीविजन, रेफ्रिजरेटर, मोबाइल फोन तथा कई अन्य घरेलू उपभोक्ता सामग्री बनाने वाली कोरियाई कंपनी सैमसंग नोएडा के नए संयंत्र में बने मोबाइल फोन का निर्यात पश्चिम एशियाई, अफ्रीकी और यूरोपीय बाजारों में करेगी। मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत करीब 5,000 करोड़ रुपये के निवेश से बने इस संयंत्र का उद्घाटन आगामी सोमवार को प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी करने वाले हैं। इस मौके पर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन भी उपस्थित रहेंगे।  सैमसंग कम्पनी ने उठाया बड़ा कदम, नोएडा से विदेशी बाजारों को मोबाइल फोन करेगी निर्यात

सैमसंग के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि नोएडा के नए संयंत्र में फिलहाल मोबाइल फोन के निर्माण पर फोकस किया जाएगा और वह निर्यात केंद्रित इकाई होगी। इस समय कंपनी भारत में हर महीने करीब 50 लाख मोबाइल फोन बनाती है, जो घरेलू बाजार में तो बेचे ही जाते हैं, साथ ही दक्षिण एशियाई (सार्क) देशों में भी निर्यात किए जाते हैं। नए संयंत्र की क्षमता इससे दोगुनी होगी और वहां बने मोबाइल फोन पश्चिम एशियाई देशों के साथ-साथ अफ्रीकी और यूरोपीय देशों में भी भेजे जाएंगे। इसमें संयंत्र में प्रिंटेड सर्किट बोर्ड (पीसीबी) भी बनाया जाएगा और आधुनिक टेलीविजन भी बनाने की योजना है।  

भारतीय बाजार पर पकड़ के लिए हरसंभव प्रयास
भारतीय मोबाइल बाजार में अपनी पकड़ बनाए रखने के लिए सैमसंग इन दिनों हरसंभव उपाय कर रही है। इसी रणनीति के तहत नोएडा में नए संयंत्र का निर्माण किया गया है। इस संयंत्र के निर्माण के समय बताया गया था कि उक्त संयंत्र की सालाना उत्पादन क्षमता 12 करोड़ मोबाइल फोन होगी। इससे वह भारतीय मोबाइल फोन बाजार में एक बार फिर अपनी स्थिति मजबूत कर सकेगी। उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ समय से चीन की कुछ कंपनियों की बाजार में हिस्सेदारी जबरदस्त तरीके से बढ़ रही है। श्याओमी ने तो बाकायदा घोषित कर दिया है कि अब वह भारत में नंबर वन मोबाइल फोन बेचने वाली कंपनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मारूति की कारों का जलवा बरकरार, ये लो बजट कार रही नंबर वन

भारतीय कार बाजार में मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई)