रसेल की ‘रन’लीला

सबसे पहले बात रसेल की रनलीला की. चेन्नई के खिलाफ मैच में कैरेबियाई ऑलराउंडर रसेल 7वें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे और उतरते ही उन्होंने लट्ठमार क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया. रसेल के आगे जो भी गेंद गिरी उसने अपना ठीकाना बाउंड्री के पार ही ढूढ़ा. रसेल ने 244.44 की स्ट्राइक रेट से धोनी के गेंदबाजों का दम निकालते हुए 36 गेंदों पर नाबाद 88 रन की पारी खेली, जिसमें 1 चौका और 11 छक्के शामिल रहे.

रसेल के रिकॉर्ड का ब्रेकअप

रसेल की ये रनलीला क्यों अहम थी अब जरा उसे इस ब्रेकअप के जरिए समझिए. रसेल ने अपनी इस धमाकेदार पारी के दौरान 4 तरह के गेंदबाजी वैरिएशन का सामना किया. यॉर्कर , फुल लेंथ डिलीवरी, गुड लेंथ डिलीवरी और शॉर्ट पिच गेंद. रसेल ने 100 की स्ट्राइक से खेले 2 यॉर्क गेंदों पर 2 रन बनाए, 346.7 की स्ट्राइक रेट से 15 फुल लेंथ डिलीवरी पर 52 रन ठोंके. 8 गुडलेंथ गेंदों पर 250 की स्ट्राइक रेट से ताबड़तोड़ 20 रन जड़े. वहीं शॉर्ट पिच गेंदों पर उनका स्ट्राइक रेट 127.3 का रहा और उन्होंने 11 गेंदों पर 14 रन बनाए.

CWG: श्रेयसी सिंह ने डबल ट्रैप शूटिंग में जीता गोल्ड

IPL में सबसे बेहतर स्ट्राइक रेट

रसेल IPL इतिहास के उन बल्लेबाजों की लिस्ट में टॉप पर हैं जिनका स्ट्राइक रेट कम से कम 20 पारी खेलने के बाद सबसे ज्यादा है. IPL में रसेल का स्ट्राइक रेट 179.10 का है. रसेल नंबर 7 पर बल्लेबाजी करते हुए IPL इतिहास की सबसे बड़ी पारी खेलने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं. इस मामले में उन्होंने IPL-11 के पहले मैच में मुंबई के खिलाफ बनाए ड्वेन ब्रावो के 68 रन के रिकॉर्ड को तोड़ा. रसेल ने 11 छक्के जमाए जो कि 100 से कम रन की पारी में सबसे ज्यादा छक्कों के रिकॉर्ड की बराबरी है.

रैना और धोनी के क्लब में बिलिंग्स

रसेल की इस दे दना दन रन लीला का सैम बिलिंग्स ने अपने ब्लास्ट से मुंहतोड़ जवाब कैसे दिया अब जरा वो देखिए. बिलिंग्स ने 243.47 की स्ट्राइक रेट से 23 गेंदों पर 56 रन बनाए, जिसमें उन्होंने 2 चौके और 5 छक्के जड़े. देखा जाए तो चेन्नई को जीत दिलाने वाली बिलिंग्स के इस मैच विनिंग नॉक का स्ट्राइक रेट रसेल से थोड़ा ही कम है. इस धमाकेदार पारी के दौरान बिलिंग्स ने 21 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया, जो कि IPL में चेन्नई के बल्लेबाज के बल्ले से निकला तीसरा सबसे तेज अर्धशतक है. इस मामले में बिलिंग्स के आगे सिर्फ रैना और धोनी ही हैं. IPL 2014 में रैना ने 16 गेंदों पर किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ अर्धशतक जड़ा था, जबकि IPL 2012 में धोनी ने मुंबई के खिलाफ 20 गेंदों पर अर्धशतक जमाया था.

डेब्यू मैच में धमाका करते हैं बिलिंग्स

बिलिंग्स इससे पहले IPL में दिल्ली की टीम का हिस्सा थे. IPL 2016 में दिल्ली के लिए डेब्यू करते हुए बिलिंग्स ने 34 गेंदों पर 54 रन बनाए थे. IPL 2018 में बिलिंग्स ने चेन्नई के लिए डेब्यू किया और 23 गेंदों पर 56 रन बनाए. कमाल की बात ये रही कि अपने दोनों ही डेब्यू में इंग्लिश बल्लेबाज सैम बिलिंग्स ने रन बनाने के लिए जिस टीम को चुना वो टीम कोलकाता की रही.