रिलायंस जियो के मॉडल से भारत की 7 करोड़ खुदरा दुकानें वर्चस्व के लिए जंग के मैदान में बदलने वाली

रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स ने कुछ दिनों पहले ही अपनी ई-कॉमर्स साइट जियोमोर्ट (JioMart) को देश के 200 शहरों में लॉन्च किया है.

अब ग्राहक जियो मार्ट से फल, सब्जी, डेयरी उत्पाद और बेकरी जैसे जरूरी सामान ऑनलाइन ऑर्डर कर सकेंगे. लेकिन इस क्षेत्र में पहले से ही जबरदस्त प्रतिस्पर्धा है, एमेजॉन, फ्लिपकार्ट, बिग बास्केट जैसे खिलाड़ी हैं.

तो भला रिलायंस जियोमार्ट ग्राहकों को ऐसा क्या देगी जो उसे पहले से नहीं मिल रहा? इसके लिए कंपनी ने खास रणनीति बनाई है.

कंपनी ने इसके पहले नवी मुंबई, कल्याण और ठाणे में इस सेवा का 6 महीने तक ट्रायल किया था. अब जियोमार्ट की सेवा मुंबई, पुणे, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद और कोलकाता जैसे देश के 200 बड़े और छोटे शहरों में उपलब्ध है.

असल में रिलायंस जियो का जो मॉडल है उससे भारत की करीब 7 करोड़ खुदरा दुकानें अगले दिनों में वर्चस्व के लिए जंग के मैदान में बदलने वाली हैं.

रिलायंस जियो ने इन दुकानदारों तक पहुंच के लिए जियोमार्ट शुरू किया है. लॉकडाउन के बीच ही Amazon इंडिया ने ‘लोकल शॉप्स ऑन एमेजॉन’ प्रोग्राम लॉन्च कर दिया है. तो जियोमार्ट देश की बड़ी ग्रॉसरी डिलीवरी सर्विस जैसे ऐमेजॉन, फ्लिपकार्ट और बिग बास्केट से मुकाबला करेगी. .

रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स ने देश के करोड़ों उपभोक्ताओं को हासिल करने के लिए अलग तरह मॉडल बनाया है. उसने किसी बड़े स्टोर खोलने या सप्लायर को जोड़ने की जगह देश के करीब 7 करोड़ खुदरा दुकानदारों को जोड़ने की योजना बनाई है.

जियोमार्ट ने ऐसे छोटे-छोटे दुकानदारों को व्हाट्सऐप के माध्यम से जोड़ने की योजना बनाई है. रिलायंस का व्हाट्सऐप से समझौता है तो उसके लिए यह आसान भी होगा.

ग्राहक घर बैठे आसानी से व्हाट्सऐप के द्वारा अपने आसपास नेबरहुड स्टोर्स से ऑर्डर कर सकेंगे. हालांकि अभी जियोमार्ट की वेबसाइट से ही हो रहा है और कुछ ही जगहों पर व्हाट्ऐप सर्विस ट्रायल के रूप में है, लेकिन कंपनी आगे चलकर बड़े पैमाने पर इसे करने वाली है.

ग्राहकों को ऑर्डर प्लेस करने के लिए सबसे पहले jiomart.com में लॉगइन करना होगा. फिलहाल JioMart ऐप ऐपल या गूगल प्ले स्टोर में उपलब्ध नहीं है.

इस साइट में कई वेराइटी के प्रोडक्ट्स जैसे- फ्रूट्स, वेजिटेबल्स, डेयरी, बेकरी, पर्सनल केयर, होम केयर और बेबी केयर मिल जाएंगे.

रिलायंस रिटेल द्वारा नेबरहुड स्टोर्स, सुपरमार्केट्स, हायपरमार्केट्स, होलसेल और ऑनलाइन स्टोर्स संचालित किए जाते हैं. कंपनी ने रिलायंस फ्रेश और दूसरे रिटेल बिजनेस के रजिस्टर्ड कस्टमर डेटाबेस को जियोमार्ट में इंटीग्रेट कर दिया है.

रिलायंस जियो से जुड़े एक सूत्र बताते हैं कि कंपनी ने फास्ट डिलिवरी, बेस्ट प्राइस और व्यापक पहुंच जैसी रणनीति से इस बाजार में कब्जा जमाने का इरादा अपनाया है.

उन्होंने कहा, ‘दूसरी कंपनियों से अगर ग्राहकों को कुछ अलग कुछ देने की बात करें तो एक तो हमारी डिलिवरी सबसे फास्ट होगी, क्यों​कि हम नेबरहुड स्टोर्स को जोड़ने की योजना बना रहे हैं.

दूसरे हम सबसे कॉम्पिटिटिव प्राइस देंगे. इसी तरह हमारी पहुंच देश के सभी बड़े-छोटे शहरों और कस्बों तक होगी. इस फील्ड में अभी जो प्लेयर हैं, उनकी पहुंच बड़े या कुछ छोटे शहरों तक ही है. इस तरह फास्ट डिलिवरी, बेस्ट प्राइस और ब्रॉड रीच के द्वारा कंपनी इस बाजार में छा जाना चाहती है.’

गौरतलब है कि हाल ही में फेसबुक ने रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स में बड़ा निवेश करने का ऐलान किया है. फेसबुक और रिलायंस के बीच हुई इस डील के तहत WhatsApp और Reliance Jio के बीच भी कमर्शियल एग्रीमेंट साइन किया गया है.

ये दरअसल ऑनलाइन वेंचर JioMart के लिए है. JioMart वॉट्सऐप बेस्ड ऑनलाइन पोर्टल होगा. तो रिलायंस को वॉट्सऐप के यूजर बेस का भी फायदा मिलेगा.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button