दलित सेना के राष्ट्रीय सम्मेलन में बोले रामविलास- न्यायपालिका में भी लागू हो आरक्षण

पटना। बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर की जयंती पर शनिवार को बापू सभागार में दलित सेना के राष्ट्रीय सम्मेलन में सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में आरक्षण लागू करने का मुद्दा छाया रहा। लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि सुप्रीम एवं हाई कोर्ट में एससी, एसटी और ओबीसी का प्रतिनिधित्व नगण्य है। सुप्रीम कोर्ट में एससी व एसटी वर्ग के एक भी जज नहीं हुए। इसके चलते न्यायालय में समाज का पक्ष सही ढंग से नहीं रखा जाता। न्यायिक सेवा आयोग का गठन एवं न्यायालय में आरक्षण लागू होना चाहिए। इसके लिए दलित सेना को आंदोलन करना चाहिए।  दलित सेना के राष्ट्रीय सम्मेलन में बोले रामविलास- न्यायपालिका में भी लागू हो आरक्षण

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने एससी- एसटी एक्ट को मजबूत किया। आरक्षण के मसले पर राजनीति की जा रही है। कांगे्रस ने बाबा साहेब आंबेडकर को अपमानित किया। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती ने मुख्यमंत्री रहने के दौरान एससी- एसटी एक्ट को निरस्त कर दिया था और अब दलित प्रेम का दिखावा कर रही है। मायावती को देश से माफी मांगनी चाहिए।

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसी की हिम्मत नहीं है कि आरक्षण छीन ले। कांगे्रस दुष्प्रचार कर रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एससी- एसटी एक्ट को मजबूत किया। दलितों के नाम पर ड्रामा करने वालों की सच्चाई सामने आना चाहिए।

केन्द्रीय राज्यमंत्री व रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि साजिश के तहत आरक्षण को लेकर बहस की जा रही है। आरक्षण खत्म करने वाली पार्टी डेथ सर्टिफिकेट पर हस्ताक्षर कर देगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आरक्षण की  हिफाजत करने के लिए प्रहरी के तौर पर तैनात हैं। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि आरक्षण गांधी और अंबेडकर की देन है। दलितों के विरोध में काम करने वाले ही आरक्षण को लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। इसको न तो कोई छीन सकता है और न ही कम कर सकता है।

लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष व सांसद चिराग पासवान ने कहा कि बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर ने भी दलितों से शिक्षित बनने और संघर्ष करने को कहा था। आरक्षण संवैधानिक अधिकार है। आजादी के सत्तर सालों के बाद भी एससी- एसटी की स्थिति में सुधार नहीं होने की जिम्मेदार कांगे्रस है। दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद रामचन्द्र पासवान ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री व लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस ने कार्यक्रम का संचालन किया। मौके पर मंत्री महेश्वर हजारी, मणिपुर सरकार में मंत्री के. श्याम, सांसद महबूब अली कैसर, डॉ अशोक चौधरी, जनक, राजकुमार साह, रमेश ऋषिदेव, राजू तिवारी, सुनील पांडेय, प्रिंस राज, विनोद सिंह आदि ने विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के