PNB घोटाले पर बोले राजनाथ सिंह, नीरव मोदी को अमेरिका से खींच लाएंगे

- in बड़ी खबर, राजनीति

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने देश के सबसे बड़े बैंक घोटाले को लेकर कहा कि जरूरत पड़ी तो नीरव मोदी को अमेरिका से खींचकर लाएंगे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से बातचीत की कोई गुंजाइश नहीं है। आतंकवाद फैलाने का रवैया और सुलह की कोशिशें साथ-साथ नहीं चल सकतीं। भरोसा दिलाया कि सेना देशवासियों का मस्तक नीचा नहीं होने देगी।

PNB घोटाले पर बोले राजनाथ सिंह, नीरव मोदी को अमेरिका से खींच लाएंगे

महात्मा ज्योतिबा फूले रुहेलखंड विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस पर बतौर मुख्य अतिथि यहां पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री से पत्रकारों ने सवाल किया कि जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री मुफ्ती महबूबा पाकिस्तान से बातचीत की पक्षधर हैं, जबकि आपकी पार्टी के लोग पाकिस्तान को सबक सिखाने की बात कह रहे हैं? इस पर उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात में पाकिस्तान के साथ बातचीत का कोई औचित्य नहीं है। सेना जरूरी कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि पत्थरबाजों से मुकदमे उनमें सुधार की बुनियाद पर वापस लिए गए हैं।

गृहमंत्री ने सबसे बड़े बैकिंग घोटाले पर कहा कि ऐसी प्रभावी कार्रवाई होगी कि आगे कोई इस तरह की जुर्रत नहीं कर पाएगा। घोटाले का आधा पैसा वसूल किया जा चुका है। यह भी कहा कि घोटाला 2011 से चल रहा है। हमारी सरकार में तो पकड़ में आया। अब दंडात्मक कार्रवाई हो रही है।

त्रिपुरा विधानसभा चुनावः अब तक 23.25 फीसदी हुआ मतदान

इसके पहले विवि के स्थापना दिवस समारोह में उन्होंने कहा कि इंफोसिस के इंजीनियर और अलकायदा के आतंकवादी, दोनों ही युवा हैं। शिक्षित हैं। बस सोच का अंतर है। इंफोसिस दुनिया में विकास का नाम है और अलकायदा दहशत का।

समारोह में इनका हुआ सम्मान

पुरातन छात्र राजस्थान हाईकोर्ट के जज जस्टिस गंगाराम मूलचंदानी, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी, पोस्ट मास्टर जनरल जितेंद्र गुप्ता, केसर चीनी मिल के उपाध्यक्ष शरद मिश्रा, पूर्व कुलपति प्रोफेसर जाहिद हुसैन जैदी, पूर्व कुलपति एमडी तिवारी, मैकेनिकल इंजीनिय¨रग के पूर्व शिक्षक एवं भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, एकेटीयू के कुलपति प्रोफेसर विनय पाठक मुख्य अतिथि के हाथों सम्मानित हुए।

 

You may also like

सड़क पर चलना हो जाएगा महंगा, पेट्रोल के बाद 14% तक चढ़ सकते हैं CNG के दाम!

सड़क पर चलने वालों के लिए बुरी खबर है.