मिशन बंगाल से पहले असम में पीएम मोदी की हुंकार, भूमिहीन लोगों को दिया…

पीएम मोदी ने कहा कि आज हमारी सरकार असम की जरूरतों की पहचान करके, हर जरूरी प्रोजेक्ट्स पर तेज़ी से काम कर रही है. पीएम ने कहा कि बीते 6 सालों से असम सहित पूरे नॉर्थ ईस्ट की कनेक्टिविटी और दूसरे इंफ्रास्ट्रक्चर का अभूतपूर्व विस्तार भी हो रहा है, आधुनिक भी हो रहा है. पीएम ने कहा कि असम के हर क्षेत्र की हर जनजाति को साथ लेकर चलने की इसी नीति से आज असम शांति और प्रगति के मार्ग पर चल पड़ा है. 

पीएम मोदी ने कहा कि ऐतिहासिक बोडो समझौते से अब असम का एक बहुत बड़ा हिस्सा शांति और विकास के मार्ग पर लौट आया है. समझौते के बाद हाल में बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के पहले चुनाव हुए, प्रतिनिधि चुने गए. मुझे विश्वास है कि अब बोडो टेरिटोरियल काउंसिल विकास और विश्वास के नए प्रतिमान स्थापित करेगी.

आज जब देश गैस बेस्ड इकॉनॉमी की तरफ तेज़ी से आगे बढ़ रहा है, तो असम भी इस अभियान का एक साझीदार है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

पीएम मोदी ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र पर चल रही हमारी सरकार असम के हर हिस्से में, हर वर्ग को तेजी से विकास का लाभ पहुंचाने में जुटी है. चाय जनजाति का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज चाय जनजाति के घरों को शौचालय जैसी मूल सुविधाओं से जोड़ा जा रहा है. चाय जनजाति के अनेक परिवारों को भी ज़मीन का कानूनी अधिकार मिला है. चाय जनजाति के बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य और रोज़गार की सुविधाओं पर ध्यान दिया जा रहा है. पहली बार उनको बैंक की सुविधाओं से जोड़ा गया है. 

पीएम मोदी ने कहा कि लोगों का आत्मविश्वास तभी बढ़ता है जब घर-परिवार में भी सुविधाएं मिलती हैं और बाहर का इंफ्रास्ट्रक्चर भी सुधरता है. बीते सालों में इन दोनों मोर्चों पर असम में अभूतपूर्व काम किया गया है. पीएम मोदी ने कहा कि आज असम की करीब 35 लाख गरीब बहनों की रसोई में उज्जवला का गैस कनेक्शन है. इसमें भी लगभग 4 लाख परिवार SC/ST वर्ग के हैं. 2014 में जब हमारी सरकार केंद्र में बनी तब असम में LPG कवरेज सिर्फ 40 प्रतिशत ही थी. अब उज्जवला की वजह से असम में LPG कवरेज बढ़कर करीब-करीब 99% हो गई है. 

पीएम मोदी ने कहा कि असम में पौने दो करोड़ लोगों के जन धन खाते मिले हैं. इन लोगों को कोरोना काल में सीधे पैसे दिए गए. उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के लिए असम और पूर्वोत्तर का तेजी से विकास जरूरी है. पीएम ने कहा कि केंद्र और राज्य का डबल इंजन पिछले 4 वर्षों में असम के घर हल में पानी पहुंचाने की कोशिश कर रहा है.  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब इन परिवारों को भी किसान सम्मान निधि का लाभ मिलेगा और उनके खातों में सीधे पैसे ट्रांसफर होंगे. ये परिवार इस जमीन के एवज में बैंकों से लोन ले सकेंगे.  

असम के शिवसागर में प्रधानमंत्री मोदी ने 1 लाख 6 हजार असम के भूमिहीन लोगों को जमीनों का पट्टा दिया. इस मौके पर पीएम ने वहां एक जनसभा को संबोधित किया और कहा कि धरती हमारी माता के समान हैं. पीएम मोदी ने कहा कि पिछली सरकारों ने भूमिहीनों को जमीन देने में कोई रूचि नहीं दिखाई थी. लेकिन इस सरकार में सवा दो लाख परिवार को जमीन के पट्टे दिए गए अब एक लाख परिवार इसमें और जुड़ गए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी आज कोलकाता में एक मंच पर होंगे. कोलकाता में सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए केंद्र सरकार ने ममता बनर्जी को न्यौता दिया था, जिससे बंगाल की सीएम ने स्वीकार कर लिया है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम के शिवसागर जिले में पहुंच गए हैं. इससे पहले एयरपोर्ट पर सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने पीएम मोदी का स्वागत किया. पीएम मोदी का कोरोना महामारी के बाद ये पहला असम दौरा है.  पीएम मोदी शिवसागर जिले में एक कार्यक्रम में शिरकत कर रहे हैं.  

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेता सुभाष चंद्र बोस की जंयती की शुभकामनाएं दी है. ममता सरकार इस जयंती को देशनायक दिवस के रूप में मना रही है. ममता ने ट्वीट कर कहा कि देशनायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर उन्हें नमन. वे सच्चे अर्थों में नेता थे और सभी लोगों की एकता में विश्वास करते थे. 

हम लोग इस दिन को देशनायक दिवस के रूप में मना रहे हैं.  पश्चिम बंगाल सकार ने पूरे साल तक उत्सव मनाने के लिए एक कमेटी का गठन किया है. 

महान स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस के पोते सुगता बोस ने कहा है कि उन्हें पीएम मोदी के नेताजी भवन में दौरे को लेकर कोई जानकारी नहीं मिली है. ये जानकारी इसलिए काफी अहम हो जाती है क्योंकि सुगता बोस ही नेताजी भवन की देखभाल करते हैं. पोते सुगता बोस ने कहा कि उन्हें पीएम मोदी के दौरे को लेकर कोई जानकारी नहीं मिली है. आमतौर पर इस तरह के आधिकारिक दौरे से काफी पहले ही आने वाले की जानकारी दे दी जाती है. जिससे कि सभी जरूरी तैयारी समय पर पूरी की जा सके. 

विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी की जयंती पर आयोजित पराक्रम दिवस समारोह में पीएम के साथ ही पश्चिम बंगाल के राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी मंच पर मौजूद होंगे. शाम 5.57 बजे से पीएम के संबोधन का कार्यक्रम है. 6.38 बजे प्रधानमंत्री रिमोट से प्रोजेक्शन मैपिंग शो की शुरुआत करेंगे. शाम 6.54 बजे से राष्ट्रगान होगा और कार्यक्रम के समापन के बाद पीएम मोदी 6.59 बजे विक्टोरिया मेमोरियल से निकल जाएंगे.

पीएम मोदी का कार्यक्रम भारत सरकार का आधिकारिक कार्यक्रम है तो इसके मात्र 7 दिन बाद 30 जनवरी को गृह मंत्री अमित शाह बंगाल में राजनीतिक कार्यक्रम में शिरकत करने जाएंगे. अमित शाह 30 जनवरी को नादिया जिले में मायापुर का दौरा करेंगे. इसके बाद वे उसी दिन उत्तरी 24 परगना में ठाकुरनगर जाएंगे, ये शहर बांग्लादेश के बॉर्डर से नजदीक है. 31 जनवरी को उल्बेरिया में अमित शाह का रोड शो है. इसके बाद हावड़ा में अमित शाह एक विशाल रैली को संबोधित करेंगे.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button