पीएम मोदी ने ममता पर साधा निशाना, बोले- टीएमसी का फूल जनता के लिए शूल

पश्चिम बंगाल में चुनावी पारा चढ़ा हुआ है। राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर जमकर कीचड़ उछाल रही हैं। गुरुवार को पश्चिम बंगाल के जयनगर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। पीएम ने कहा कि टीएमसी का फूल पश्चिम बंगाल के लिए एक शूल की तरह है, जो असहनीय पीड़ा दे रहा है। पीएम मोदी ने बांग्ला में संबोधित करते हुए कहा कि रक्त का खेल नहीं चलेगा, नहीं चलेगा। 

बंगाल के जयनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले चरण में बंगाल में हुए शांतिपूर्ण और रिकॉर्ड मतदान में लोगों ने भाजपा को भारी समर्थन दिया है। पीएम ने कहा कि पहले चरण में जिस तरह की दमदार शुरुआत भाजपा ने की है, उससे ये साफ है कि जनता की आवाज को ईश्वर का भी आशीर्वाद मिल गया है। बंगाल में भाजपा की जीत का आंकड़ा 200 के भी पार जाएगा। आज दूसरे चरण में भी लोग भारी संख्या में पोलिंग बूथ पर पहुंच रहे हैं। हर तरफ भाजपा ही भाजपा है, भाजपा की लहर है।

रक्तरंजित करने वाला शूल है तृणमूल : पीएम
पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि धमकी और गालियां देने वाली दीदी कह रही हैं-कूल कूल! दीदी, तृणमूल, कूल नहीं, बंगाल के लोगों के लिए शूल है। बंगाल को असहनीय पीड़ा देने वाला शूल है तृणमूल। बंगाल को रक्तरंजित करने वाला शूल है तृणमूल। बंगाल के साथ अन्याय करने वाला शूल है तृणमूल। दीदी का हर एक्शन देख लीजिए, सबकुछ स्पष्ट नजर आता है। शुरुआती रुख पता चला, तो तो दीदी भवानीपुर सीट छोड़कर नंदीग्राम पहुंच गईं। नंदीग्राम जाकर लगा उन्हें लगा कि यहां आकर गलती कर दी है। गुस्से में वो नंदीग्राम के लोगों के अपमान पर उतर आईं।
 
‘स्क्रू ढीला है’ वाले बयान पर पीएम ने दिया जवाब
पीएम मोदी ने हिंदुत्व कार्ड खेलते हुए कहा कि दीदी यदि आपको किसी को खुश करना है, तो कर सकती हैं, लेकिन स्वामी विवेकानंद, चैतन्य महाप्रभु और रामकृष्ण परमहंस की परंपरा को मैं गाली नहीं देने दूंगा। बता दें कि ममता बनर्जी ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा था कि यूपी और बिहार से टीका और भगवा वस्त्र धारी गुंडे आ रहे हैं। पीएम ने ममता बनर्जी की ओर से की गई व्यक्तिगत टिप्पणियों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि दीदी ने कहा कि मेरा स्क्रू ढीला हो गया है। वह ऐसी तमाम बातें कर सकती हैं, लेकिन कम से कम संविधान का तो अपमान नहीं करना चाहिए।

कहा- दीदी जिनको मानती थी बाहरी, अब उनसे मांगी मदद
मोदी ने कहा कि पहले चरण की वोटिंग होने के बाद उनकी बौखलाहट और बढ़ गई है। कल ही दीदी ने देश के कई नेताओं को संदेश भेजकर मदद की अपील की है। जो लोग दीदी की नजर में बाहरी हैं, टूरिस्ट हैं, जिन्हें वो कभी मिलने तक का समय नहीं देती थीं, अब उनसे समर्थन मांग रही हैं। दीदी बंगाल में अब खूनी खेल नहीं चलेगा।

पीएम ने कहा कि अगर दीदी ने पांच साल तक बंगाल के लोगों की सेवा की होती, तो यह नहीं करना पड़ता क्या। ईवीएम को दीदी पहले ही गाली दे चुकी हैं और चुनाव आयोग को भी कठघरे में खड़ा कर चुकी हैं। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button