प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय चीन के दौरे पर हैं. राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पीएम मोदी का गर्मजोशी से स्वागत किया. दोनों नेताओं के बीच हो रही इस दो दिवसीय अनौपचारिक शिखर बैठक के दौरान द्विपक्षीय , वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा होगी. प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार सुबह वुहान पहुंचे, जहां राष्ट्रपति शी ने उनका भव्य स्वागत किया. इसके तुरंत बाद दोनों नेताओं के बीच अनौपचारिक बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया.

प्रधानमंत्री जिस देश भी जाते हैं वहां के नेताओं से गले मिलकर उनका स्वागत करते हैं. इतना ही नहीं वह भारत आने वाले नेताओं का गले मिलकर स्वागत करते हैं. उनकी इस यूनिक स्टाइल की चर्चा पूरी दुनिया में होती है. लेकिन जब बात चीन की आती है तो पीएम मोदी हाथ मिलाने से आगे नहीं बढ़ पाते. साल 2014 में सत्ता में आने के बाद मोदी की यह चौथी चीन यात्रा है.

दोनों नेताओं ने अपनी अनौपचारिक बैठकों की शुरुआत 2014 में की जब शी भारत आए और मोदी ने उनकी आगवानी गुजरात के साबरमति आश्रम में की. उसके बाद से दोनों नेता दर्जन भर अंतरराष्ट्रीय बैठकों में मिल चुके हैं. लेकिन पीएम मोदी कभी भी शी चिनफिंग से गले नहीं मिले.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी अमेरिकी यात्रा के दौरान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से गले मिलकर दोस्ती दिखाई थी.

इसी तरह अपनी रूस की यात्रा के दौरान पीएम मोदी ने राष्ट्रपति पुतिन को भी गले लगा लिया था.

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की भारत यात्रा के दौरान पीएम मोदी ने गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया था.

बुलेट ट्रेन पर लूटा रहे अरबों, बिना फाटक के क्रासिंग पर मर रहे बच्‍चे: चिदंबरम

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने पिछले साल दिसंबर में भारत की यात्रा की थी. शिंजो आबे अपनी यात्रा के दौरान दो दिन गुजरात में रहे. इस यात्दोरा के दौरान दोनों देशों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर हुए जिनमें बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट भी शामिल है.

दिसंबर 2015 में काबुल से नई दिल्ली लौटते वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबको चौंकाते हुए अचानक लाहौर का दौरा किया, जहां उन्होंने नवाज शरीफ को उनके जन्मदिन की बधाई दी और शरीफ की नातिन की शादी में शरीक हुए. लाहौर से 40 किलोमीटर दूर शरीफ के पुश्तैनी घर में 90 मिनट तक ठहरने के दौरान दुल्हन को आशीर्वाद देने के बाद मोदी बाद में नई दिल्ली के लिए रवाना हो गए. इस दौरान पीएम मोदी ने नवाज शरीफ को गले लगाना नहीं भूले.

भारत यात्रा के दौरान पीएम मोदी ने अमरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा का गर्मजोशी से स्वागत किया था. गणतंत्र दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर ओबामा को निमंत्रित किया था.