सोशल मीडिया को लेकर पीएम मोदी ने दिए बड़े संकेत, ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम अकाउंट को…

अपने संदेश जनता तक पहुँचाने के लिए सोशल मीडिया का कुशलता से उपयोग करने वाले धुरंधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार रात इसी फोरम से यह एलान कर सबको चौंका दिया कि वह अगले रविवार से सभी सोशल मीडिया से हटने की सोच रहे हैं। करोड़ों फॉलोअर्स वाले इस मंच से हटने के फैसले के पीछे क्या कारण है, यह कोई बताने की स्थिति में नहीं है।

माना जा रहा है कि वह एक साथ कई संदेश देना चाहते हैं। इसमें सोशल मीडिया में हाल के दिनों में आ रही नकारात्मकता, इन फोरम में दिखते रहे पक्षपातपूर्ण रवैये, समाज को इसकी लत से बचाने की कोशिश जैसी कई सोच हो सकती है।प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर अपने मन की बात जाहिर करते हुए कहा, ‘इस रविवार से मैं फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यू-ट्यूब पर अपने सभी खातों को छोड़ने के बारे में विचार कर रहा हूं। इस बारे में जानकारी दूंगा।’

इस बीच भाजपा के आइटी सेल ने लोगों से रविवार तक इंतजार करने को कहा है।मोदी के ट्वीट के बाद अटकलें लगाई जा रही हैं कि सोशल मीडिया पर अफवाहों के फैलने से वह निराश हैं। सोशल मीडिया जितना लोकप्रिय हुआ है, उतना ही विवादित भी हुआ है। आरोप प्रत्यारोप ज्यादा बढ़ा है। ध्यान रहे कि सोशल मीडिया को लेकर अक्सर यह सवाल भी उठता रहा है कि इसे नियंत्रित नहीं किया जा सकता है और इसीलिए अराजक हो जाता है। शायद प्रधानमंत्री अपने फैसले से यही संदेश देना चाहते हैं। कुछ लोग यह भी कह रहे हैं कि भारत अपना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लांच कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: दोषियों की फांसी तीसरी बार टलने बाद फिर छलका निर्भया की मां का दर्द, कुछ इस तरह किया बया

करते रहे हैं पैरवी

यह ट्वीट बहुत चौंकाने वाला इसलिए भी माना जा रहा है क्योंकि 2014 के लोकसभा चुनाव अभियान से लेकर मोदी अपनी केंद्रीय योजनाओं और सामाजिक सरोकारों को भी सोशल मीडिया के जरिये खासा प्रचारित-प्रसारित करते रहे हैं। वह कई बार सोशल मीडिया को सरकार और जनता के बीच की सबसे बड़ी कड़ी भी कह चुके हैं और इसके उपयोग को लेकर लोगों को प्रोत्साहित किया है।

ट्रेंड करने लगा ‘नो सर’

मोदी के ट्वीट करते ही सोशल मीडिया पर हैशटैग ‘नो सर’ ट्रेंड करने लगा। लोग प्रधानमंत्री मोदी से सोशल मीडिया नहीं छोड़ने की अपील करने लगे। दो घंटे के भीतर ही मोदी के ट्वीट पर 68 हजार लोगों ने कमेंट कर दिया। रीट्वीट करने वालों की संख्या 34 हजार और लाइक करने वालों की तादाद 10.5 लाख से ज्यादा हो गई। कई लोग यह भी कहने लगे हैं कि अगर मोदी इस प्लेटफॉर्म को छोड़ेंगे तो वे भी इसे अलविदा कह देंगे। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस की पत्नी अमृता फड़नवीस ने भी कहा है कि वह पीएम मोदी का अनुसरण करेंगी। शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी समेत कई अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी इस पर प्रतिक्रिया दी है।

कांग्रेस ने साधा निशाना

मोदी के ट्वीट पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी प्रतिक्रिया देने में देरी नहीं की। राहुल ने ट्वीट किया, ‘नफरत को छोडि़ए, सोशल मीडिया नहीं।’ कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी को सलाह देते हुए लिखा, ‘आदरणीय मोदी जी, दिल से चाहता हूं कि आप यह सुझाव अपनी ट्रोल सेना को दीजिए, जो दिन-रात लोगों को गालियां देते रहते हैं।’

जुकरबर्ग ने बदल लिया था अपना प्रोफाइल फोटो

सोशल मीडिया पर पीएम मोदी की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगता है कि फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने सितंबर, 2015 में कंपनी के हेडक्वार्टर में मोदी की मेजबानी की थी। इस मुलाकात से ठीक पहले मोदी सरकार के ‘डिजिटल इंडिया’ प्रोग्राम के समर्थन में जुकरबर्ग ने अपना प्रोफाइल फोटो भी बदल लिया था।

ट्विटर पर पीएम मोदी के 5.33 करोड़ फॉलोअर्स

प्रधानमंत्री मोदी का यह ट्वीट हैरान करनेवाला है, क्योंकि फेसबुक और ट्विटर पर उनके काफी फॉलोअर्स है। ट्विटर पर उनके 5 करोड़ 33 लाख 70 हजार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं। जबकि वह खुद 2373 लोगों को फॉलो करते हैं। वहीं फेसबुक पर 4 करोड़ 45 लाख, इंस्ट्राग्राम पर 3 करोड़ 52 लाख, यूट्यूब पर 45 लाख यूजर फॉलोअर्स हैं।

सोशल मीडिया पर सक्रिय रहते हैं पीएम मोदी

बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राजनीतिक सफलता में सोशल मीडिया को एक बड़ा श्रेय दिया जाता है। गुजरात के मुख्यमंत्री से देश के प्रधानमंत्री तक का उनका सफर जिस तेजी से बढ़ा उसके लिए सोशल मीडिया पर उनकी सक्रियता को बहुत अहम बताया जाता है। गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर ही वह सोशल मीडिया पर काफी लोकप्रिय हो गए थे। युवाओं के बीच उनकी पैठ भी सोशल मीडिया से ही बनी। पीएम की सक्रियता और सफलता के बाद अधिकतर नेताओं ने सोशल मीडिया का रुख किया। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी सोशल मीडिया के विभिन्न अकाउंट पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले नेता हैं। वह अक्सर सोशल मीडिया के जरिए दुनियाभर में लोगों के साथ संपर्क में रहते हैं।

लोगों में हैरानी,  कर रहे हैं न छोड़ने का अनुरोध 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस ट्वीट से लोगों में हैरानी है। उनके टि्वटर हैंडल पर लोग पोस्ट कर उनसे ऐसा न करने की गुजारिश कर रहे हैं। कुछ ट्वीट में यह भी लिखा गया है कि उनकी वजह से वे टि्वटर से जुड़े, इसलिए वे सोशल मीडिया छोड़ने का फैसला न लें।

राहुल गांधी ने कसा तंज

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी के ट्वीट का स्क्रीन शॉट शेयर करते हुए ट्वीट कर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा – नफरत को छोड़िए सोशल मीडिया नहीं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button