‘शनि’ को प्रसन्न करने के लिए शनिवार को जरूर करें ये काम

हिन्दू धर्म मे शनि वार की पूजा और व्रत करने की अपनी ही एक परम्परा है I इस दिन भगवान शनि देव की उपासना की जाती हैI वैसे तो किसी भी शनि वार से व्रत किया जा सकता है, पर श्रावण मास से यह व्रत आरम्भ करना शास्त्रो के अनुसार करना बड़ा ही उचित माना जाता हैI शनिवार का व्रत करने की मान्यता है की जो कोई भी 7 शनिवार पूरी निष्ठा से करता है, उस पर से शनि की समस्या नहीं होती हैI

शनिवार व्रत करने की विधि

इस दिन जल्दी उठकर स्नान कर लेI इसके बाद पीपल/खेजडे के पेड़ पर तिल और लोंग युक्त जल चढायेI फिर शनि देव की मूर्ति के पास बेठे और और ध्यान लगायेI पूजा समाप्त होने के बाद काली वस्तु या काला कपडा किसी भी भिक्षुक को दान कर देI इस दिन पूजा करने के बाद खाने का सेवन एक ही समय के लिए करना होगा I व्रत के आखरी दिन हवन कराते हुए शनि देव की उपासना करनी चाहिएI

व्रत को करने से लाभ इस व्रत को करने से शनि देव की कृपा बनी रहती है, तथा व्यक्ति सहनी के प्रकोप से भी बचता है I साथ ही साथ व्यक्ति के घर मे सुख शांति और समृधि का समावेश होता रहता हैI

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button