PCS की भर्ती प्रक्रिया में बड़ा बदलाव, बेरोजगार छात्र जरूर पढ़ें

big-change-in-pcs-recruitment-pattern-5611a5862565d_exlstविवादों के बीच उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की भर्ती परीक्षाओं और उनके परिणाम घोषित होने के भी सभी रिकार्ड टूटते जा रहे हैं। अब पीसीएस की भर्ती प्रक्रिया संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सर्विसेज से भी कम अवधि में पूरी हो जाएगी।

 

आयोग की ओर से परीक्षाओं का जो कैलेंडर घोषित हुआ है उसके अनुसार पीसीएस की भर्ती प्रक्रिया एक साल के भीतर ही पूरी हो जाएगी। 

डॉ. अनिल यादव के अध्यक्ष बनने के बाद भर्तियों में कुछ ज्यादा तेजी आई है। ढाई साल में आयोग ने तकरीबन ढाई सौ तरह की भर्तियां कर डालीं। हालांकि इन भर्तियों में गड़बड़ी की आशंका व्यक्त करते हुए प्रतियोगियों ने न्यायालय में याचिका दाखिल की है। पीसीएस तथा अन्य भर्तियों में भी यह तेजी दिखाई दे रही है।
संघ लोक सेवा आयोग की ओर से सिविल सर्विसेज की भर्ती प्रक्रिया पूरी करने में तकरीबन डेढ़ साल लग जाते हैं। पहले पीसीएस की भर्ती प्रक्रिया पूरी होने में भी दो से तीन साल लग जाते थे, लेकिन अब एक साल के भीतर ही प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
पीसीएस-2015 से इसकी शुरुआत होने जा रही है। इसकी मुख्य परीक्षा हो चुकी है। इसी साल इंटरव्यू कराके फाइनल रिजल्ट निकालने की भी तैयारी है। यही स्थिति पीसीएस-2016 में भी रहने की उम्मीद है।
आयोग ने पीसीएस-2016 प्रारंभिक परीक्षा 20 मार्च को कराने की घोषणा की है। 24 जून से मुख्य परीक्षा शुरू हो जाएगी। सबकुछ निर्धारित कार्यक्रम के तहत हुआ तो आगामी वर्ष में पीसीएस की भर्ती प्रक्रिया 2016 में ही पूरी हो जाएगी।
इतना ही नहीं लोअर सबऑर्डिनेट भर्ती प्रक्रिया भी एक साल में पूरी हो जाएगी। लोअर सबऑर्डिनेट-2006, 2008, 2009 की भर्ती प्रक्रिया पूरी होने में दो से तीन साल लग गए। लोअर सबऑर्डिनेट-2013 की भर्ती प्रक्रिया भी अभी पूरी नहीं हुई है। इसके विपरीत लोअर सबऑर्डिनेट-2015 की भर्ती प्रक्रिया एक साल में पूरी की कवायद तेज कर दी गई है।
आयोग ने छह दिसंबर को प्रारंभिक फिर अगले साल 24 अप्रैल से मुख्य परीक्षा कराने की घोषणा की है। यदि सबकुछ तय कार्यक्रम के अनुसार हुआ तो यह भर्ती भी अगले साल अक्तूबर तक पूरी हो जाएगी।

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button