पाक की नापाक हरकत: भारत के इन राज्यों में आतंकी भेजने के लिए बनाया नया रास्ता

वर्ष 2020 में पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर या पंजाब में सीमाओं के माध्यम से आतंकवादियों को भेजने के अलावा घुसपैठ के लिए कई नए मार्गों से भी कोशिश की है। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के अनुसार, पाकिस्तान की ओर से गुजरात और राजस्थान की सीमाओं से आतंकवादियों को भारतीय सीमा में घुसपैठ कराने के प्रयास किए गए।

बीएसएफ द्वारा इकट्ठा की गई जानकारी के मुताबिक, दोनों राज्यों से सटी सीमाओं पर घुसपैठ की संख्या में वृद्धि हुई है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

पिछले साल, नवंबर के पहले सप्ताह तक बीएसएफ द्वारा दर्ज गुजरात और राजस्थान सीमाओं से घुसपैठ के प्रयासों की कोई घटना नहीं हुई थी। दिलचस्प बात यह है कि बीएसएफ के कश्मीर फ्रंटियर ने पिछले साल की तुलना में सिर्फ एक घुसपैठ दर्ज की है, जहां नवंबर के पहले सप्ताह तक 4 घुसपैठ हुई थीं।

इस साल, बीएसएफ के राजघराने और गुजरात फ्रंटियर ने अगस्त और सितंबर में घुसपैठ की घटनाओं को दर्ज किया है। अधिकारियों ने दावा किया कि पाकिस्तान आतंकवादियों को भेजने के अन्य तरीके तलाश रहा है, लेकिन चौबीसों घंटे बीएसएफ खुफिया सूचना के अनुसार कड़ी चौकसी और नियमित रूप से अपडेट रहने की स्थिति में रहती है।

बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हमने इस साल गुजरात और राजस्थान की सीमाओं से घुसपैठ की कोशिशों को देखा है। पिछले साल, इसी अवधि में ऐसी कोई घटना दर्ज नहीं की गई थी।”

बीएसएफ अधिकारियों ने बताया कि जम्मू कश्मीर, पंजाब, राजस्थान और गुजरात सीमा से नवंबर के पहले सप्ताह तक 11 घुसपैठ की घटनाएं दर्ज की गई हैं। इस साल, जम्मू और पंजाब की सीमाओं से सबसे अधिक 4-4 घुसपैठ की घटना हुई।

नवंबर में, जम्मू और कश्मीर के सांबा में अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ के लिए इस्तेमाल की जाने वाली 150 मीटर लंबी भूमिगत सुरंग का पता चला था। बीएसएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के संयुक्त अभियान में सुरंग का पता चला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button