पाक को आतंकी संगठनों के खिलाफ को उठाने होंगे बड़े कदमः अमेरिका

अमेरिका ने पाकिस्तान को चेतावनी दी है कि उसे तालिबान और अन्य आतंकी संगठनों के खिलाफ और कदम उठाने होंगे। अमेरिका ने यह भी कहा कि अगर पाकिस्तान अपनी धरती से होने वाले सीमा पार आतंकी हमलों को रोकने में विफल रहा तो ट्रंप सरकार एकतरफा कार्रवाई के लिए तैयार है। अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने शनिवार को यहां पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी से मुलाकात के दौरान यह चेतावनी दी।

अपनी बीमार बहन को देखने व्यक्तिगत यात्रा पर अमेरिका आए अब्बासी ने शनिवार को पेंस से मिलने का निवेदन किया था। दोनों की मुलाकात पेंस के सरकारी निवास पर हुई। इस मुलाकात के बाद ह्वाइट हाउस ने एक बयान में कहा, “उपराष्ट्रपति पेंस ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बात दोहराते हुए पाकिस्तान सरकार से कहा कि पाक में मौजूद तालिबान, हक्कानी नेटवर्क और अन्य आतंकी संगठनों के खिलाफ पाकिस्तान सरकार को कदम उठाने ही होंगे।” ह्वाइट हाउस के मुताबिक 30 मिनट चली इस मुलाकात में पेंस ने सीमा पार आतंकी हमलों को रोकने पर जोर दिया।

बांग्लादेश में सात आतंकियों को सुनाई गई मौत की सजा

अमेरिका ने पाकिस्तान की अफगान नीति पर भी नाखुशी जताई। छह महीने पहले अमेरिका ने अपनी दक्षिण एशिया नीति की घोषणा की थी। इस नीति के मुताबिक पाकिस्तान को आतंकियों के खिलाफ निर्णायक कदम उठाने थे। लेकिन पाकिस्तान, अमेरिका की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा। पाकिस्तानी अखबार डॉन में अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से कहा गया है, “बयानबाजी की जगह हम तालिबान और हक्कानी नेटवर्क की पनाहगाहों के खिलाफ जमीनी स्तर पर कार्रवाई चाहते हैं।”

You may also like

सेना के इशारे पर काम करती है पाकिस्‍तान सरकार : पूर्व PM अब्‍बासी

इस्‍लामाबाद : पाकिस्‍तान से पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्‍बासी ने वहां की