अब महिलाए भी वियाग्रा प्रयोग कर ले सकती है सेक्स का ऐसे मजा

- in जीवनशैली

लंबी बहस आखिरकार महिलाओं में सेक्स के प्रति घटती रुचि को बढ़ाने वाली दवा बानसेरिन यानी ‘फीमेल वियाग्रा’ को अमरीकी FDA ( फ़ूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन)की मंजूरी मिल गई है, FDA की सलाहकार समिति ने इसके पक्ष के तर्क और विपक्ष में आई आपत्तियों पर गौर करने के बाद इसे इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी है। विश्व भर से अनेक महिला संगठनों ने ‘महिलाओं की बेहतरी का फैसला’ बताया है। महिलाओं की उम्र बढ़नती उरमा के साथ सेक्स की चाहत कम हो जाती है और ऐसे में फीमेल वियाग्रा इनकी सेक्स के प्रति रुचि को बढ़ाएगी।

फीमेल वियाग्रा की जरूरत तब महसूस हुई जब यह बात उठी कि बढ़ती उम्र और अन्य कई कारणों से महिलाओं में सेक्स के प्रति कम दिलचस्पी हो रही है। मर्दों के लिए वियाग्रा की जरूरत उसका समय बढ़ाने के लिए महसूस हुई जबकि महिलाओं के लिए वायग्रा की जरूरत उनमे सेक्स के प्रति रुचि बदने के लिए होता है। FDI का कहना है कि मर्द और औरत दोनों की ही जिंदगी में सेक्स को लेकर एक तरह का रवैया रखना चाहिए, वैज्ञानिकों का कहना है की ये दवा महिलाओं के दिमाग के अगले हिस्से के सर्किट को उस समय श‌िथिल कर देती है जो उनकी सेक्स इच्छा को घटा रहा होता है।

ये है भारत का आखिरी गाँव जहाँ हुई थी महाभारत की रचना

पहले फ़्लिबानसेरिन को मुख्य रूप से एंटी-डिप्रेसेंट कम करने वाली दवा के तौर पर विकसित किया था लेकिन इसका लोगों के मूड पर कोई असर नहीं पड़ा। लेकिन वैज्ञानिकों को इसके क्लिनिकल ट्रायल में शामिल औरतों में एक साइड इफ़ेक्ट दिखा की इससे सेक्स में दिलचस्पी बढ़ने लगी। इसके बाद वैज्ञानिकों ने इस दवा को फीमेल वियाग्रा के तौर पर विकसित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

क्या आपको भी सताती है किसी की याद तो हो सकते हैं ये बड़े कारण

काम से लौटकर रोज़ जब घर पहुंचते हैं