आज तक कोई नहीं तोड़ पाया ब्रैंडन मैक्कुलम का ये टेस्ट रिकॉर्ड

- in खेल

न्यूजीलैंड के दिग्गज खिलाड़ी ब्रैंडन मैक्कुलम ने इंटरनेशनल क्रिकेट में कई शानदार रिकॉर्ड बनाए हैं. उन्होंने बतौर कप्तान टीम के लिए कई बार शानदार प्रदर्शन किया, जिसकी बदौलत न्यूजीलैंड ने कई अहम मुकाबलों में जीत हासिल की. हालांकि कई बार ऐसा भी हुआ जब मैक्कुलम का प्रदर्शन टीम की जीत में सहायक नहीं बना. एक ऐसा ही दिलचस्प वाकया फरवरी 2016 में हुआ था. मैक्कुलम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलते हुए एक ऐसा वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया जो उनसे पहले किसी नाम दर्ज नहीं था.

दरअसल फरवरी 2016 में न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट और वनडे सीरीज खेली गयी थी. इस दौरान दोनों टीमों के बीच दो टेस्ट मुकाबले खेले गए, जिनमें ऑस्ट्रेलिया ने बेहतरीन जीत हासिल की. इस सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच 20 फरवरी से 24 फरवरी तक खेला गया. इस दौरान ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. न्यूजीलैंड की ओर मार्टिन गुप्टिल और टॉम लैथम ओपनिंग करने आए. ये दोनों खिलाड़ी क्रीज पर ज्यादा देर नहीं टिक पाए पवेलियन लौट गए.

कुलदीप,चहल को भी पीछे छोड़ा यह दिल्ली का फिरिंगी

शुरुआती चार खिलाड़ियों के आउट होने के बाद कप्तान ब्रैडन मैक्कुलम बल्लेबाजी करने आए. इस दौरान उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए टेस्ट क्रिकेट का सबसे तेज शतक जड़ा. मैक्कुलम ने 79 गेंदों का सामना करते हुए 21 चौकों और 6 छक्कों की मदद से 145 रन की बेहतरीन पारी खेली. मैक्कुलम का यह शतक इतिहास में दर्ज हो गया. उन्होंने 54 गेंदों में ही शतक जड़ा दिया था. दिलचस्प बात यह रही कि यह उनका आखिरी टेस्ट मैच था. इसके बाद मैक्कुलम ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया.

न्यूजीलैंड के लिए दुखद यह रहा कि वो यह टेस्ट मैच नहीं जीत पाए. टीम ने पहली पारी में ऑलआउट होने तक 370 रन बनाए और दूसरी पारी में टीम ने 335 रन बनाए. वहीं ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 505 रन बनाए और दूसरी पारी में 3 विकेट खोकर 54 रन बनाकर मैच जीत लिया. लिहाजा ऑस्ट्रेलिया ने 7 विकेट से यह मैच जीत लिया.

 
 
 

You may also like

इलाहाबाद की टीम ने जीती ओवरआल चैंपियनशिप ट्राफी

52वीं यूपी स्टेट जूनियर (अंडर-14 व अंडर-16) एथलेटिक्स