Home > बड़ी खबर > FIR के बाद भी नीरव मोदी पर कोई असर नहीं, विदेश में खोले दो स्टोर

FIR के बाद भी नीरव मोदी पर कोई असर नहीं, विदेश में खोले दो स्टोर

पंजाब नेशनल बैंक की मुंबई ब्रांच में हुए 11000 करोड़ से अधिक के फ्रॉड ट्रांजेक्शन ने पूरे देश को चौंका कर रख दिया. मामले में आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है. नीरव मोदी देश से बाहर हैं और दुनिया भर में उनकी तलाश चल रही है. इसी बीच एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है, अभी कुछ ही दिन पहले नीरव मोदी ने अपने दो नए स्टोर्स खोले हैं.

ये दो स्टोर्स नीरव मोदी पर एफआईआर दर्ज होने के बाद खोले गए हैं. ये दो स्टोर्स मकाऊ और कुआलालंपुर में खोले गए हैं. बता दें कि नीरव मोदी के खिलाफ  एलओयू की मदद से बैंकों से लोन लेने का आरोप है.

दूसरी तरफ ईडी, सीबीआई कंपनियां लगातार देशभर में नीरव मोदी के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. रविवार को भी ईडी ने पीएनबी स्कैम से जुड़े करीब 47 जगहों पर छापेमारी की है. इसके अलावा नीरव मोदी और मेहुल चोकसी से संबंधित 3 लोगों को एजेंसियों की तरफ से समन किया गया है. ED ने इस मामले में नई दिल्ली के साकेत मॉल, वसंत कुंज और रोहिणी में छापेमारी की है.

स्वामी ने कहा कि वित्त मंत्रालय दे बयान

BJP नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएनबी घोटाले पर कहा कि अभी तक वित्त मंत्रालय ने इससे जुड़ा कोई बयान नहीं दिया है, पहले उन्हें इस मुद्दे पर बयान देने दीजिए. सिर्फ बीजेपी प्रवक्ताओं के बयान से ही काम नहीं चलेगा. जम्मू में माता वैष्णोदेवी यूनिवर्सिटी में बोलते हुए स्वामी ने कहा कि इस मुद्दे में वित्तीय सचिव को जरूर बयान देना चाहिए. उन्होंने कहा कि जब वित्त मंत्रालय की ओर से इस मामले में बयान आता है तो पीएम मोदी को जरूर दोषियों को सजा देना चाहिए.

अब एक और घोटाला, रोटोमैक के मालिक ने लगाई 3000 करोड़ की चपत

BJP नेता राम माधव ने कहा कि नीरव मोदी के कई कांग्रेस नेता और राहुल गांधी से भी संबंध हैं. इस मामले के पीछे सच जल्द ही सभी के सामने आएगा. इस समय इस मुद्दे पर कांग्रेस को जवाब देना है.

दुनियाभर के एयरपोर्ट को नोटिस

PNB महाघोटाले में सुरक्षा एजेंसियों की कार्रवाई ने अब रफ्तार पकड़ ली है. सीबीआई ने घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी को पकड़ने के लिए इंटरपोल की मदद मांगी है. इसके लिए दुनिया भर के एयरपोर्ट को नोटिस दिया जा चुका है, ताकी अगर नीरव कहीं जाने की कोशिश करे तो भारतीय एजेंसियों को पता चल सके.

इससे पहले भी इंटरपोल के जरिए ये नोटिस जारी किया जा चुका था, लेकिन वो कुछ ही देशों के लिए था. अब ये नोटिस दुनिया भर के लिए है. हालांकि, नीरव मोदी अभी कहा हैं इस बात की सीबीआई के पास अभी तक कोई पुख्ता जानकारी नहीं है.

कर्मचारियों को बंटता था पैसा

आपको बता दें कि मामले में अधिकारियों की धर-पकड़ का सिलसिला लगातार जारी है. सीबीआई, ईडी समेत कई सुरक्षा एजेंसियों ने पिछले दिनों देशभर में छापेमारी की. वहीं अधिकारियों से पूछताछ के दौरान उन्होंने सीबीआई को बताया है कि उन्हें हर LoU के लिए कुछ निश्चित प्रतिशत राशि मिलती थी. ये राशि LoU की राशि के आधार पर तय होता था.

ये राशि पीएनबी में सभी कर्मचारियों में बराबर हिस्से में बांटी जाती थी, जो भी इस प्रक्रिया में शामिल होते थे. सीबीआई को उन सभी लोगों के नाम दे दिए गए हैं, जिनसे उन्हें पूछताछ करनी है. सीबीआई ने बैंक अधिकारियों से उन सभी बैंक ब्रांच के बारे में भी पूछा जहां पर लगातार रेड मारी जा रही है.

Loading...

Check Also

वाराणसी में भाजपा की कमल संदेश बाइक रैली कल, सीएम योगी करेंगे अगुवाई 

वाराणसी में भाजपा की कमल संदेश बाइक रैली कल, सीएम योगी करेंगे अगुवाई 

उत्तर प्रदेश के सभी 80 लोकसभा क्षेत्रों में 17 नवंबर को भाजपा कमल संदेश बाइक …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com