कभी विरोधियों ने किया था उपहास, आज स्वच्छता बना अभियान: रामविलास

केंद्रीय खाद्य आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि चंपारण की धरती ने देश को दिशा दी। गांधीजी एक अंजान व्यक्ति के बुलावे पर यहां आए थे और सत्याग्रह के साथ स्वच्छाग्रह की सीख दी। सत्याग्रह आजादी की लड़ाई में बड़ा हथियार साबित हुआ। आज देश में स्वच्छता का अभियान चल रहा है। इस जागरूकता से समाज में काफी बदलाव आएगा।

 केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब लालकिले से स्वच्छता और शौचालय की बात की थी तो कई लोगों ने उपहास किया था। लेकिन, आज गर्व है कि प्रधानमंत्री के इस अभियान के साथ पूरा देश खड़ा है। जिस तरह गांधीजी के साथ सत्याग्रह का नाम जुड़ा, उसी तरह प्रधानमंत्री के साथ स्वच्छता का नाम जुड़ गया है। कांग्रेस ने 60 साल के शासनकाल में देश को कूड़ा-कचरा बना दिया था। आज स्वच्छता का अभियान देशभर में चल रहा है और 2019 में देश की नई तस्वीर सामने आएगी। प्रधानमंत्री की नीति व नीयत दोनों साफ है।

रामविलास पासवान ने कहा कि समाज में कुछ लोग हिंसा का वातावरण पैदा कर रहे हैं। भय का माहौल बना रहे हैं। भाजपा को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जब कुछ लोगों का साथ छोड़ दिया तो वे लोग बिहार में विधि व्यवस्था को खराब कर एनडीए की सरकार को बदनाम करने में लगे हैं। विरोधी दल के लोग दलित बच्चों व युवाओं को गुमराह कर ङ्क्षहसा फैला रहे हैं, लेकिन हमलोग जेपी आंदोलन से निकले लोग हैं। जेपी का नारा था-हमला चाहे जैसा होगा, हाथ हमारा नहीं उठेगा। इसका हम अनुसरण करेंगे।

आरक्षण पर बोले

रामविलास पासवान ने कहा कि आरक्षण पूना एक्ट के जरिए आया है। इसमें बाबा साहेब अंबेदकर व महात्मा गांधी की भूमिका है। यह हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है। प्रधानमंत्री ने भी खुद कहा है कि मेरी लाश पर आरक्षण खत्म होगा। इसे कोई खत्म नहीं कर सकता। इसके बावजूद कुछ बेईमान लोग कानाफूसी कर एनडीए की सरकार को बदनाम कर रहे हैं।

 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बहराइच: मंत्री लगा रहीं ठुमके, बुखार से बच्चों की मौत का क्रम जारी

बहराइच तथा पास के जिलों में संक्रामक बुखार