मुंबई : सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड के चश्मदीद की हुई हत्या

- in अपराध, महाराष्ट्र

मुंबई । साल 2011 के सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड के एक अहम चश्मदीद की हत्या कर दी गई। उसका शव सोमवार तड़के मुंबई के अंधेरी इलाके में पाया गया। वह 24 घंटे से लापता बताया जा रहा था।पुलिस के अनुसार, अविनाश बाली (40) का शव अंधेरी के एमआइडीसी इलाके में पाया गया। उसकी निर्दयता से हत्या की गई।

वह कीनन सैंटोस और रूबीन फर्नाडीज की हत्या का गवाह था। दोनों की 20 अक्टूबर, 2011 को उस समय कुछ लोगों ने चाकू घोंपकर हत्या कर दी थी जब वे कुछ लड़कियों को बचाने की कोशिश कर रहे थे। वे लड़कियों के साथ छेड़खानी कर रहे थे। एमआइडीसी पुलिस स्टेशन के अधिकारियों ने कहा कि बाली 24 घंटे से लापता था। कीनन-रूबीन हत्याकांड में बाली ना सिर्फ अहम चश्मदीद बल्कि शिकायतकर्ता भी था।

20 अक्टूबर, 2011 की शाम कीनन और रूबीन अपने दोस्तों अविनाश सोलंकी, बेंजामिन फर्नाडीज, प्रियंका फर्नाडीज और दो अन्य महिलाओं के साथ अंबोली बार एंड किचन में डिनर करने गए थे। खाने के बाद जब उनके दोस्त रेस्तरां के पास स्थित एक पानी की दुकान पर गए थे, तो उसी दौरान कुछ लोग महिलाओं पर अभद्र टिप्पणियां करने लगे।

कीनन ने जब इसका विरोध किया तो वे लोग चले गए। थोड़ी देर बाद धारदार हथियार लेकर अपने साथियों के साथ आए और उन पर हमला कर दिया। कीनन की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि रूबीन ने एक हफ्ते बाद दम तोड़ दिया था। इस मामले में एक निचली अदालत ने चार लोगों को उम्र कैद की सजा सुनाई थी। फिलहाल इनकी अपील बांबे हाई कोर्ट में लंबित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

प्रेमिका को फंसाने के लिए युवक ने ले ली दोस्त की जान, जाने पूरा मामला

यूपी के आजमगढ़ में एक युवक ने अपनी