MP में खंडवा के मांधाता से विधायक नारायण पटेल ने विधानसभा की सदस्यता से दिया इस्तीफा

मध्य प्रदेश में कांग्रेस को एक बार फिर से झटका लगा है। खंडवा के मांधाता से विधायक नारायण पटेल ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने इसे स्वीकार कर लिया है। पटेल अब भाजपा ज्वाइन करेंगे। वह शाम को भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने भाजपा की सदस्यता लेंगे।

मध्य प्रदेश में इसी महीने ये तीसरे विधायक हैं, जो भाजपा ज्वाइन करने जा रहे हैं। इससे पहले 24 विधायक कांग्रेस का साथ छोड़ चुके हैं। 15 दिनों के अंदर कांग्रेस को यह तीसरा बड़ा झटका है। नारायण पटेल के इस्तीफे के साथ मध्य प्रदेश में कांग्रेस विधायकों की संख्या अब 89 रह गई है।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के विधायक संभल नहीं रहे हैं। कमलनाथ लगातार विधायकों को एकजुट करने की कोशिश में लगे हुए हैं। उसके बावजूद इस्तीफों का दौर थम नहीं रहा है। भाजपा नेता लगातार कह रहे हैं कि कांग्रेस के कई विधायक लाइन में लगे हुए हैं। नारायण पटेल का बुधवार से ही फोन बंद था।

15 दिन के अंदर तीन इस्तीफे 
प्रदेश कांग्रेस को 15 दिन के अंदर यह तीसरा बड़ा झटका है। इससे पहले छतरपुर जिले की बड़ामलहरा सीट से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी और नेपानगर विधायक सुमित्रा कासडेकर पार्टी छोड़ चुकी हैं। उसके बाद कमलनाथ ने भोपाल में विधायकों की बैठक भी की थी। लेकिन, उसका असर नहीं दिख रहा है। बैठक के 3 दिन बाद ही एक और विधायक ने इस्तीफा दे दिया। 

27 सीट पर होंगे उपचुनाव
अब प्रदेश में 27 सीटें खाली हो गईं हैं। प्रदेश में 25 विधायकों के इस्तीफे से कांग्रेस लगातार कमजोर हो रही है। पार्टी के अब 89 विधायक हैं। वहीं, भाजपा के पास 107 विधायक हैं। भाजपा को पूर्ण बहुमत के लिए अब सिर्फ 9 विधायकों की जरूरत है। 

दो सीटें विधायकों के निधन होने से खाली

मुरैना जिले की जौरा सीट से कांग्रेस विधायक बनवारी लाल शर्मा का 21 दिसंबर 2019 को निधन हो गया था। इसी साल 30 जनवरी को आगर-मालवा से भाजपा विधायक मनोहर ऊंटवाल का भी बीमारी के कारण निधन हो गया।

यह विधायक पहले छोड़ चुके हैं कांग्रेस

इमरती देवी, राजवर्धन सिंह, रक्षा सरोनिया, महेंद्र सिंह सिसोदिया, ओपीएस भदौरिया, रनवीर जाटव, गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, रघुराज सिंह कंसाना, गिराज दंडोतिया, मुन्नालाल गोयल, जसमंत, मनोट चौधरी, ऐदल सिंह कंसाना, बिसाहूलाल सिंह, प्रभुराम चौधरी, जजपाल सिंह, सुरेश धाकड़, कमलेश जाटव, तुलसी सिलावट, बृजेंद्र सिंह यादव, और हरदीप सिंह, कुंवर प्रद्युम्न सिंह लोधी, सुमित्रा देवी कासडेकर भी भाजपा में आ गई थीं।

विधानसभा में स्थिति

  • मध्य प्रदेश विधानसभा में 230 सदस्य हैं।
  • इनमें 22 पहले ही इस्तीफा दे चुके। 2 का निधन हो चुका।
  • 27 सीटें खाली होने से विधानसभा में कुल 203 सदस्य।
  • कांग्रेस के अब 89 विधायक हैं। 
  • भाजपा के पास 107 विधायक हैं। 
  • 4 निर्दलीय, 2 बसपा और 1 सपा का विधायक
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button