15 जून तक इन राज्यों में दस्तक देगा मानसून, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में…

केरल के बाद महाराष्ट्र में  मानसून ने दस्तक दे दी है। दक्षिण पश्चिम मानसून के कारण राज्य के कुछ तटीय इलाकों में बारिश हो रही है। वहीं मौसम विभाग के अनुसार 15 जून तक दक्षिण पश्चिम मानसून के ओडिशा, झारखंड, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों और बिहार में पहुंचने की संभावना है। वहीं  भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की मानें राजस्थान और उत्तर प्रदेश (यूपी) के कई हिस्सों में रविवार (6 जून) को तेज हवाएं चलने के अलावा बारिश हो सकती है।

महाराष्ट्र में मानसून ने दी दस्तक

महाराष्ट्र में शनिवार को पहुंचे दक्षिण पश्चिम मानसून के कारण राज्य के कुछ तटीय इलाकों में बारिश हो रही है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के क्षेत्रीय केंद्र की निदेशक शुभांगी भुते ने कहा कि मानसून उम्मीद के मुताबिक रहा है। उन्होंने कहा कि दक्षिण पश्चिम मानसून महाराष्ट्र में पहुंच गया है। यह औपचारिक रूप से तटीय रत्नागिरी जिले में हरनाई बंदरगाह में पहुंच गया है। इसके दस्तक देने का वास्तविक क्षेत्र सोलापुर तथा मराठावाड़ा के कुछ हिस्सों तक और उसके बाद तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश तक होता है।

https://twitter.com/ANI/status/1401305850820513800?

15 जून तक इन राज्यों में मानसून पहुंचने की संभावना

भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के अगले 10 दिनों यानी 15 जून तक बिहार व बंगाल के कुछ हिस्सों, झारखंड और ओडिशा तक पहुंचने की संभावना है। विभाग ने बताया कि मानसून मध्य अरब सागर, पूरे तटीय कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, उत्तरी अंदरूनी कर्नाटक के अधिकांश हिस्सों, तेलंगाना व आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों, तमिलनाडु व मध्य बंगाल की खाड़ी के कई और इलाकों और पूर्वोत्तर बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों तक पहुंच गया है। हालांकि सोमवार और मंगलवार को बारिश होने की कोई संभावना नहीं है। विभाग के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के राजेंद्र जेनामणि ने कहा कि 11 जून तक बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। यह मानसून को आगे बढ़ने में मदद करेगा। मानसून के चलते शनिवार को कर्नाटक के कई हिस्सों में जमकर बारिश हुई। विभाग ने अगले 24 घंटों में केरल और तमिलनाडु के साथ साथ कर्नाटक में भी गरज-चमक और तेज हवाओं के साथ भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया है।

इन राज्यों में भी बारिश की संभावना

मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के अनुसार पूर्वोत्तर भारत, केरल, तटीय कर्नाटक और तमिलनाडु के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, कोंकण और गोवा, गुजरात क्षेत्र, दक्षिणपूर्व राजस्थान, तेलंगाना और रायलसीमा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर तेज बारिश हो सकती है। तटीय आंध्र प्रदेश, शेष मध्य प्रदेश, सिक्किम, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और पश्चिमी हिमालय में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। उत्तर और पश्चिमी राजस्थान में धूल भरी आंधी आ सकती है।ओडिशा, छत्तीसगढ़ और दक्षिण-मध्य उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है।

तीन दिनों में उत्तर-पश्चिम भारत में बढ़ सकता है तीन-चार डिग्री तापमान

विभाग ने कहा है कि नमी में बढ़ोतरी और हवा की बदलती दिशाओं की वजह से अगले तीन दिनों में उत्तर-पश्चिम भारत के अधिकांश हिस्सों में तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने की संभावना है। लेकिन अगले पांच दिनों तक देश में लू चलने की संभावना नहीं है।विभाग के मुताबिक, सोमवार से बुधवार तक जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगिट बाल्टिस्तान व मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिम राजस्थान में मौसम शुष्क रहेगा। हालांकि रविवार को बारिश हो सकती है। मंगलवार और बुधवार को उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में 25 से 35 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।

दिल्‍ली में कैसा रहेगा मौसम?

मौसस विभाग का पूर्वानुमान कहता है कि इस हफ्ते दिल्‍ली में गर्मी से राहत के आसार कम ही हैं। दिन के वक्‍त पारा 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। रविवार और सोमवार को आसमान पर बादल छाए रहने और कहीं-कहीं बूंदाबादी के आसार हैं। मंगलवार से दिन के समय तेज हवाएं चलने ललेंगी। वहीं शुक्रवार को तेज धूप होने का अनुमान है। इस हफ्ते न्‍यूनतम तापमान 25 डिग्री से 28 डिग्री के बीच रह सकता है।

अभी लू चलने के आसार नहीं

मौसम विभाग की मानें तो जून में सामान्य बारिश होगी। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले पांच दिन तक देश में लू चलने की संभावना नहीं है। उत्तर भारत सहित देश के कई हिस्सों में बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुंबई केंद्र की निदेशक शुभांगी भुते के अनुसार, सोलापुर तथा मराठावाड़ा के कुछ हिस्सों में बारिश के आसार हैं।

राजस्थान में बारिश

देश में नए पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से राजस्थान के कई भागों में बूंदाबांदी व बारिश का की संभावना है। राज्य में बीते चौबीस घंटे में कई जगह एक से तीन सेंटीमीटर तक बारिश हुई है। जयपुर मौसम केंद्र के प्रवक्ता के अनुसार एक और नए पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से हरियाणा व आसपास के क्षेत्र में एक परिसंचरण तंत्र बना हुआ है। इसके प्रभाव से रविवार को बीकानेर, चूरू, नागौर व हनुमानगढ़ जिलों में आंधी के साथ अचानक 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चलने व बारिश होने की संभावना है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − two =

Back to top button