विधायक समर्थकों ने माखी गांव में एसअाइटी टीम को घेरा, दंगा भड़काने की साजिश, तनाव

उन्नाव। दुष्कर्म पीड़िता किशोरी के मामले की जांच के लिए माखी गांव पहुंची एसआईटी को अचानक विधायक के समर्थकों ने घेर लिया है। गांव में भारी भीड़ जुटाई गई है। भीड़ हाथ में तख्ती और पंपलेट आदि लेकर विधायक के समर्थन और मीडिया कवरेज के विरोध पर जमकर नारेबाजी की जा रही है। इस बीच मौके पर मौजूद भारी पुलिस बल मूक दर्शक बना हुआ है। एडीजी राजीव कृष्णा और कांग्रेस की पूर्व सांसद अन्नू टंडन का घेराव कर लिया है। भीड़ काफी आक्रामक हो गयी है।

एसआईटी माखी थाने में पीड़ित परिवार के साथ मौजूद है। इस बीच भीड़ थाने पर पहुंचने के लिए जोर अजमाइश कर रही है। दुष्कर्म पीड़िता किशोरी का मुकदमा दर्ज न होने और उसके पिता की पिटाई से मौत के मामले में एसआइटी टीम के गांव पहुंचने के बाद अचानक विधायक के समर्थन में भीड़ माखी गांव में जुटाई गई है। भीड़ ने मौके पर पहुंच कर कर मीडिया और एसआईटी का विरोध शुरू कर दिया है। चर्चा है कि विधायक और उनके समर्थकों ने मसल्स पावर गेम दिखाने के लिए यह सारा ताना बाना बुना है। 

इस बीच पीड़ित किशोरी और उसका परिवार भी थाने पहुंचा। जहां पहले से एसआइटी के अधिकारी मौजूद थे। टीम ने उन लोगों से बंद कमरे में पूछताछ कर रही है। टीम को आज शाम ही इसकी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपनी है। इससे माना जा रहा है कि टीम, विधायक व गांव के कुछ अन्य लोगों से भी घटना के बाबत पूछताछ करेगी।

टीम के साथ पीडित परिवार के होने की सूचना के बाद भी भीड़ थाना घेरने के प्रयास में लगी है, हालात तनाव पूर्ण बने हुये हैं। बताया जा रहा है कि विधायक के समर्थन में माखी गांव में भारी भीड़ जुटाई गई है। अचानक गाड़ियों से भर भर कर लोग लाए गए हैं। पंपलेट, पोस्टर लेकर पूरी तैयारी से भीड़ जुटाई गई है। मीडिया के खिलाफ नारेबाजी के बाद भी पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है।  

पीड़िता ने परिवार को बंधक बनाने का लगाया अारोप 

दुष्कर्म कि शिकार किशोरी के परिवार ने पुलिस पर उनको नजरबंद करने का आरोप लगाया है। पीड़िता और उसके परिवार को पुलिस ने शहर के एक होटल में ठहराया है। पीड़ित परिवार मुख्यमंत्री से मिलने जाना चाहता है लखनऊ। पुलिस ने पीड़ित परिवार को होटल से कही भी आने जाने पर लगाए है, प्रतिबंध परिवार बेहद परेशान। फिलहाल परिवार के कुछ सदस्यों को पुलिस ले गई एसआईटी टीम के पास माखी। बाकी अभी भी सब्जी मंडी के निकट स्थित होटल में हैं। हालांकि एसपी पुष्पांजलि ने ऐसी किसी बात से इंकार किया है। उनके मुताबिक परिवार को पुलिस की सुरक्षा दी गई है। वह जहां भी जाना चाहें जा सकते है, बस जानकारी दे दें जिससे कि उनकी सुरक्षा का बंदोबस्त किया जा सके।

अचानक प्रदर्शन के लिए जुटाई गई माखी गांव में भीड़

बाहुबली का मसल्स पावर गेम ….

– एसआईटी के आते ही विधायक ने समर्थन के लिए जुटाई भीड़

– मीडिया के विरोध में प्रदर्शन के लिए पोस्टर पंपलेट लेकर पहुंचे

– पीड़ित परिवार के साथ थाने में टीम कर रही पूछताछ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ओडिशा पहुंचा चक्रवाती तूफान, मौसम विभाग ने राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश की दी चेतावनी

चक्रवाती तूफान ‘डे’ ने ओडिशा में दस्तक दे