CM हेमंत सोरेन ने की मन की बात: हमारे पास इतने संसाधन नहीं हैं कि मैं खुद जाकर अपने लोगों को वापस ले आऊं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे. सबके मन में सवाल है कि क्या आज लॉकडाउन के चौथे चरण का ऐलान होगा? हमने जब यह सवाल झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से पूछा तो उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि पीएम मोदी मुसीबत में भी डालते हैं, माफी भी मांगते हैं यानी चित भी मेरी-पट भी मेरी.

 खास बातचीत में सीएम हेमंत सोरेन से जब पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान से जुड़ा सवाल किया गया तो उन्होंने (हेमंत सोरेन) ने कहा, ‘यह तो चित भी मेरी, पट भी मेरी. मुसीबत में भी डालें, माफी भी मांगें. आज जो नदी की प्रवाह बदल गई है. मजदूर कितने हताश हैं. जिस पीड़ा से मेरे प्रदेश के लोग गुजर रहे हैं, वो यहां के प्रवासी ही बता सकते हैं.’

दरअसल, मजदूरों के पलायन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से माफी मांगी थी. मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि कुछ ऐसे निर्णय लेने पड़े हैं, जिसकी वजह से आपको कठिनाईयां उठानी पड़ रही हैं. मैं आपकी दिक्कत और परेशानी समझता हूं, लेकिन आपकी जान बचाने के लिए कठोर कदम उठाने पड़े.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

खास बातचीत में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि खनिज संपदाओं से भरपूर से यह राज्य है. रेलवे को सबसे अधिक रेवन्यू हम देते हैं. इस राज्य के मजदूरों को घर वापस आने के लिए रेलवे टिकट देने पड़े. इससे बड़ा दुर्भाग्य कुछ नहीं हो सकता है. हमारे पास इतने संसाधन नहीं हैं कि मैं जाकर लोगों को ले आऊं.

सीएम हेमंत सोरेने कहा कि हमने झारखंड में अभी तक कोई ढील नहीं दी है. अभी तक पूर्ण रूप से राज्य में लॉकडाउन है. रमजान के समय में लॉकडाउन खोलने से लोग अचानक बाहर निकलेंगे. स्थिति और खराब हो सकती है. अभी हमने लॉकडाउन नहीं खोला है. 17 मई को पीएम मोदी का निर्णय होगा. वह हमारे कैप्टन हैं और उनका निर्णय आखिरी होगा.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button